BSd0TSYiGpC7GSG9TpO6TpG7Td==

हरियाणा सरकार लोगों के विश्वास से नहीं, विश्वासघात से बनी, दीपेंद्र हुड्डा का गठबंधन सरकार पर हमला

Deepender


Haryana News: सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने फरीदाबाद में कांग्रेस कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि हरियाणा सरकार लोगों के विश्वास से नहीं विश्वासघात से बनी है। अपनी बात को स्पष्ट करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार का मतलब पूरा मंत्रीमंडल। 


2019 के चुनाव में जनता ने बीजेपी सरकार के अधिकांश मंत्रियों को हराकर वापस घर भेज दिया था। इनमें प्रमुख रूप से रामविलास शर्मा, ओमप्रकाश धनखड़, कैप्टन अभिमन्यु, कविता जैन, मनीष ग्रोवर, कृष्ण पँवार आदि शामिल थे। 2019 का चुनाव जनता ने भाजपा सरकार को भी हरा दिया और पार्टी को भी हरा दिया था। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला बड़े अंतर से चुनाव हारे। जहां तक मुख्यमंत्री की बात है उनकी जीत अल्पमत की जीत थी। करनाल में बहुमत ने वोट ही नहीं डाला।


हरियाणा के 90 हलकों में से सबसे कम वोट यानी 49% करनाल में पड़ा और आश्चर्य की बात ये है कि सबसे ज्यादा नोटा भी करनाल में दबा। दूसरी ओर, नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा हरियाणा के 90 हलकों में से सबसे ज्यादा वोटों से जीते। 


अगर जेजेपी प्रदेश की जनता के साथ विश्वासघात नहीं करती तो आज प्रदेश में बीजेपी सरकार नहीं होती। सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने कार्यकर्ताओं को फरीदाबाद की सभी 9 सीटों पर कांग्रेस को जिताने का आवाह्न किया। 


इन्होंने भी संबोधन किया प्रभारी एवम उप नेता विपक्ष आफताब अहमद, विधायक नीरज शर्मा, रघुवीर तेवतिया, शारदा राठौर, राज कुमार वाल्मीकि, विजय प्रताप, लखन सिंगला, मुनीश शर्मा, जेपी नागर, अशोक अरोड़ा, मनोज नागर, अब्दुल गफ़ार कुरेशी, योगेश गोड, ठाकुर राजा राम, गिरीश भारद्वाज, जगह डागर, तरुण तेवतिया, सुमित गोड़, नितिन सिंगला, गुलशन बग्गा, वेदपाल दत्ता, मुकेश भट्ट, लक्षण तंवर, हरेंद्र भड़ाना, अनिल शर्मा, ठाकुर भानू प्रताप, नीरज गुप्ता, विजय कौशिक, बाल किशन वसिष्ठ आदि सैंकड़ो वरिष्ठ कार्यकर्ता मौजूद रहे।*

Comments0