BSd0TSYiGpC7GSG9TpO6TpG7Td==

पीएम का भाषण जरूरी या बच्चों की शिक्षा, सिरसा के स्कूलों में प्रधानमंत्री के परीक्षा पर कार्यक्रम नहीं दिखाने पर डीईओ को नोटिस

Sirsa News


Haryana News: प्रधानमंत्री के परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम को गंभीरता से नहीं लेने पर सांसद सुनीता दुग्गल ने सिरसा के जिला शिक्षा अधिकारी ज्ञान सिंह को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। साथ ही उपायुक्त को उच्च अधिकारियों पर कार्रवाई करने का निर्देश जारी किया गया है।


दरअसल 27 फरवरी से जिले के सभी सरकारी स्कूलों में 10वीं और 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं होनी हैं, जिसे लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को प्रदेश भर के छात्रों के साथ परीक्षा पर चर्चा का आयोजन किया था। 


इस दौरान प्रधानमंत्री ने सभी छात्रों को भयमुक्त परीक्षा देने और समय प्रबंधन के टिप्स दिए। लेकिन, जिला शिक्षा विभाग ने प्रधानमंत्री के इस कार्यक्रम को गंभीरता से नहीं लिया। जिले के किसी भी सरकारी स्कूल में परीक्षा पर चर्चा कार्यक्रम नहीं दिखाया गया।


पंचायत भवन में आयोजित दिशा की बैठक में शिक्षा विभाग के अधिकारी अपनी उपलब्धियां गिनाने में जुटे रहे। ऐसे में दिशा कमेटी के एक सदस्य ने कहा कि शिक्षा विभाग की स्थिति ऐसी है कि विभाग ने प्रधानमंत्री के इतने बड़े कार्यक्रम को गंभीरता से नहीं लिया, जिसके कारण प्रधानमंत्री का परीक्षा पर चर्चा कार्यक्रम नहीं दिखाया गया। सोमवार को किसी भी स्कूल में। 


जिस पर सांसद सुनीता दुग्गल ने जिला शिक्षा अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। वहीं, उपायुक्त पार्थ गुप्ता को शिक्षा विभाग के अधिकारियों के खिलाफ उच्च कार्रवाई करने के आदेश भी जारी किये गये हैं।


परीक्षा पर चर्चा कार्यक्रम दिखाने को लेकर शिक्षा विभाग की ओर से जिले के सभी सरकारी स्कूलों को पत्र जारी किया गया था। इसके बावजूद सरकारी स्कूलों ने गंभीरता नहीं दिखाई। 


लेकिन सवाल ये उठता है कि क्या बच्चों की पढ़ाई से ज्यादा पीएम मोदी के परीक्षा पर चर्चा का भाषण इतना जरूरी है कि शिक्षा विभाग को ही नोटिस जारी कर दिया जाए। 

Comments0