Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

मंगलवार, 26 मार्च 2019

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

इनेलो से गठबंधन तोड़ अकाली लड़ेंगे हरियाणा में चुनाव, इनेलो को लगेगा तगड़ा झटका

मोदी और अमित शाह ने इनेलो के गढ़ में सेंध लगानी शुरू कर दी है. सिरसा से ही इनेलो को कमजोर करने का प्रयास किया जा रहा है.

Inld, Akali, Sukhbir Badal, Om Prakash Chautala, Abhay Singh Chautala, Sirsa Lok Sabha seat, Ambala Lok Sabha seat, elections in Haryana, naya haryana, नया हरियाणा

21 जुलाई 2018



नया हरियाणा

पंजाब का अकाली दल  हरियाणा राजनीतिक जमीन तैयार करने में जुट गया है. मोदी की पंजाब रैली से 2019 के चुनाव का बिगुल बज चुका है. अमित शाह की बादल परिवार से मुलाकात के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि हरियाणा में अकाली भाजपा के साथ गठबंधन करके इनेलो की नींद हराम कर सकता है, क्योंकि अकाली अगर सिरसा सीट से तगड़ी और पगड़ी के साथ लड़ेगा तो इनेलो और कांग्रेस दोनों की इस सीट पर परेशानी बढ़ जाएंगी. 

इसके संकेत आज कुरुक्षेत्र में हुई बैठक से मिलने लगे हैं.  शिरोमणि अकाली दल बादल की एक अहम बैठक कुरुक्षेत्र छठी पादशाही  गुरुद्वारे में आयोजित की गई. बैठक में अकाली दल हरियाणा के प्रधान शरनजीत सिंह सोथा और प्रदेश प्रवक्ता  कवलजीत सिंह अजराना ने शिरकत की.
उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा की अकाली  दल प्रदेश में 19 अगस्त को एक बड़ी रैली पिपली में आयोजित करने जा रही है.  इस रैली की अगुवाई सुखबीर सिंह बादल करेंगे. अकाली दल हरियाणा में लोकसभा और विधान सभा चुनाव लड़ने की तैयारी में है. अभी तक अकाली दल बादल हरियाणा में इनेलो के साथ चुनाव लड़ती रही है. आने वाला पहला चुनाव होगा जो बिना इनेलो के लड़ा जायेगा.
मोदी और अमित शाह की रणनीति का यह दांव अगर चल गया तो हरियाणा में सिरसा और अंबाला लोकसभा सीट पर इसका सीधा असर देखने को मिलेगा. जहां सिख वोटों की संख्या काफी है और इनेलो के लिए तगड़ा झटका साबित होगा.
 


बाकी समाचार