Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

मंगलवार, 16 अक्टूबर 2018

पहला पन्‍ना English लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

तू इधर उधर की ना बात कर, ये बता की हरियाणा क्यों जला: कैप्टन अभिमन्यु

यशपाल मलिक और राजकुमार सैनी को दोनों गैर जिम्मेवार व्यक्ति है.

captain abhimanyu, bhupinder singh hooda, naya haryana, नया हरियाणा

20 जुलाई 2018

नया हरियाणा

हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि सीबीआई की जांच ने हिंसक आंदोलन की चार्जशीट दाखिल की है जिसमें चौकाने वाले खुलासे हुए है. कुछ लोगों ने कोशिश की जांच ही ना हो इसके लिए दबाव बनाए गए. कैप्टन ने कहा इस मामले में कांग्रेस के बड़े नेता और कांग्रेस से जुड़े वकील शामिल थे. सीबीआई ने चार्जशीट में कई खुलासे किए है लेकिन ओर परते भी खुल सकती है.
फरवरी 2016 की हिंसा ,आगजनी और लूटपाट की घटनाएं सुनियोजित षड्यंत्र था. इसके पीछे राजनीतिक संरक्षण था. मामले में जो चार्जशीट में जो नाम आए हैं वो कांग्रेस से जुड़े हुए है,पूर्व मंत्री के बेटे, पूर्व विधायक के पीएम और कांग्रेस नेताओं से सीधे सीधे जुड़े हुए हैं.
कर्फ्यू तोड़कर आदेश की अवेहलना करने वाले और लोग कांग्रेस से जुड़े थे जो हिंसक घटनाओं में शामिल है. हुड्डा के रिश्तेदार सुदीप कलकल फोन पर मेरा घर घेरने की बात कर रहे हैं.  वकीलों के झगड़े का नेतृत्व भी राहुल जैन और सुदीप कलकल कर रहे हैं. राहुल जैन हुड्डा के करीबी और कांग्रेस के युवा अध्यक्ष हैं. 
सुदीप कलकल ऑडियो में बोल रहे हैं कि वकीलों के झगड़े में कोई चोट नही लगी सब ड्रामा था. नेकीराम कॉलेज में पुलिस के लाठीचार्ज में सिर्फ जाट समाज के युवाओं को चोट नही लगी, लेकिन इसका झूठ फैलाया गया.  32 लोगों की मौत हुई और 100 से ज्यादा लोग घायल हुए उनको जानने का हक है ये हिंसा किसलिए की गई.
पूर्व सीएम हुड्डा से जब पूछा जाता है तो वो आरोपों पर कोई जवाब नहीं देते. हुड्डा कहते हैं कि आरोप घिनौना है लेकिन वे नहीं देखते की करतूत भी तो कितनी घिनौनी थी. मेरा उनसे सवाल है- तू इधर उधर की ना बात मत, ये बता हरियाणा क्यों जला.

कैप्टन ने सांसद दीपेंद्र हुड्डा पर भी निशाना साधते हुए कहा कि जिनको लौकी और आलू का साइज पता नही है वो बोलते है ओपी धनखड़ और कैप्टन को हुड्डा सपने में दिखते है. कैप्टन ने दीपेंद्र को दी नसीहत इस तरह की हिंसा करने वालों को समर्थन नही करना चाहिए और आत्म अवलोकन करना चाहिए. दीपेंद्र हुड्डा एक प्रमुख समाज को बिल में वापिस घुसाकर बिल को बंद करने की चेतावनी देते हैं ये उनकी मानसिकता को दिखता है.
अशोक तंवर पर लाठियों से हमला किया गया ये साबित करता है हुड्डा के लिए परिवार से बढ़कर कुछ नहीं है. वे पार्टी के अंदर और बाहर परिवार के अलावा किसी को नही देखना चाहते है और उन्हें लोकतंत्र बर्दाश्त नहीं. कैप्टन अभिमन्यु ने कहा 2003 में मातनहेल के सैनिक स्कूल का तत्कालीन रक्षा मंत्री ने शिलान्यास किया था, हुड्डा ने मेरा प्रेस नोट ही नहीं पढ़ा और बिना पढ़े ही ब्यान देने लगे. हुड्डा सत्ता के नशे में मगरूर थे लेकिन मातनहेल में सैनिक स्कूल नहीं बनवाया. सेना के बारे में हुड्डा को मुझसे ज्यादा नहीं पाटा और प्रोपर्टी डीलिंग के बारे में मुझसे उनसे ज्यादा नहीं पता.
कैप्टन ने कहा यशपाल मलिक ने जितना समाज की अहित किया है उतना आज तक किसी ने नहीं किया. यशपाल मलिक पर मैं टिपण्णी नही करना चाहता ये समाज का सबसे बड़ा दुश्मन है. मलिक ने समाज के युवाओं को गुमराह किया और चन्दाखोरी की है. यशपाल मलिक और राजकुमार सैनी को दोनों गैर जिम्मेवार व्यक्ति है.
राहुल गाँधी के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गले लगाने और बाद में आँख मारने पर कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि मैं भी इस उम्मीद में हूँ वे परिपक्व हो जाएं, इतनी बड़ी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर कोई काबिल व्यक्ति विराजमान हो ये उम्मीद सभी करते हैं और राहुल जी आज तक इस स्तर तक नहीं पहुंचे. सदन में राहुल गांधी ने आधा हिस्सा वो किया जो उनको सिखाया गया लेकिन बाकी जो किया जैसे वो खुद हैं. 
कैप्टन अभिमन्यु ने कहा हुड्डा जमीन लूटने के लिए, किसानों को बर्बाद करने, किसानों को आपदा में न्यूनतम मुआवजा देने सहित एक लापरवाह मुख्यमंत्री के तौर पर याद किये जाएंगे.
 


बाकी समाचार