Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

रविवार, 22 सितंबर 2019

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

नवीन जिंदल हो सकते हैं भाजपा में शामिल, कांग्रेस को लग सकता है तगड़ा झटका!

हरियाणा की राजनीति में नवीन जिंदल और सुभाष चंद्रा का समझौता नई पटकथा लिख सकता है.

Naveen Jindal, Kurukshetra Lok Sabha, Haryana BJP, Haryana Congress, Subhash Chandra, Zee News, Sudhir Chaudhary, naya haryana, नया हरियाणा

14 जुलाई 2018



नया हरियाणा

सुभाष चंद्रा और नवीन जिंदल के बीच समझौते ने नवीन जिंदल के भाजपा में शामिल होने की पटकथा रच दी है. राजनीति के गलियारों में पहले से ये कयास लगाए जा रहे थे कि नवीन जिंदल भाजपा शामिल हो सकते हैं. परंतु इस में सबसे बड़ी अड़चन राज्यसभा सांसद और जी के मालिक सुभाष चंद्रा हो सकते थे. क्योंकि इन दोनों व्यपारी घरानों के बीच व्यापार के साथ-साथ कोर्ट में भी खींचतान चल रही थी.
क्या मामला
2013 में नवीन जिंदल ने दिल्ली पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी कि जी ग्रुप के संपादक सुधीर चौधरी ने कोयला मामले में उनसे 100 करोड़ रुपए की मांग की है. पुलिस ने एफआईआर दर्ज करके केस चला दिया था.
13 जुलाई 2018 को एस्सेल समूह के मालिक सुभाष चंद्रा और नवीन जिंदल ने टविट करके समझौते की सूचना दी. दोनों की तरफ से मतभेदों को खत्म किए जाने की बात कही गई हैं.
इन्होंने जैसे ही मतभेद खत्म करने की बात कही, वैसे ही इन कयासों को पंख लग गए कि अब नवीन जिंदल भाजपा में शामिल हो सकते हैं और कुरुक्षेत्र से भाजपा के सांसद उम्मीदवार हो सकते हैं. दूसरी तरफ उनकी माता सावित्री जिंदल हिसार विधानसभा चुनाव भाजपा की टिकट पर लड़ सकती हैं.
भाजपा समर्थकों को मानना है कि अगर ऐसा हुआ तो हरियाणा में भाजपा की स्थिति मजबूत होगी और छोटे नेताओं के दल-बदलने की खबरों में ये इनेलो और कांग्रेस पर भारी पड़ेगी. क्योंकि हरियाणा की राजनीति में नवीन जिंदल एक साफ छवि के ईमानदार नेता माने जाते हैं.
 


बाकी समाचार