Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

गुरूवार, 21 मार्च 2019

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

राजनीतिक पार्टी(कांग्रेस) के लोगों ने समाज को बांटने का षडयंत्र रचा है, जनता माफ नहीं करेगी : मनोहर लाल

सीबीआई की चार्जशीट से रोहतक और पूरे हरियाणा के भाईचारे को जलाने वालों के नाम उजागर होने लगे हैं.

manohar lal, rohtak conpiracy theory, naya haryana, नया हरियाणा

8 जुलाई 2018

नया हरियाणा

जाट आरक्षण आंदोलन की आड़ लेकर रोहतक को जलाने में शामिल नए नाम सीबीआई की चार्जशीट में दाखिल हुए हैं. उससे साफ हो गया है कि ये कांग्रेसी नेताओं की राजनीतिक रंजिश ही थी, जिसका बुरा परिणाम पूरे हरियाणा की जनता को भुगतना पड़ा. इस चार्जशीट में पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा के नजदीकी नेताओं और पुत्रों के नाम आए हैं. जिनका जाट आरक्षण आंदोलन से कोई संबंध नहीं था. सीबीआई की चार्जशीट से साफ हो गया है कि पूर्व नियोजित साजिश के तहत इन घटनाओं को अंजाम दिया गया.

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जाट आरक्षण आंदोलन की आड़ में कैप्टन वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु के घर और परिवार पर हुए जानलेवा हमले में सीबीआई की चार्जशीट दर्ज होने पर बोलते हुए कहा कि इससे बड़ा घृणित कार्य नहीं हो सकता है और षडयंत्रकारियों को बख्शा नहीं जाना चाहिए.

उन्होंने कहा कि राजनीतिक पार्टी(कांग्रेस) के लोगों ने समाज को बांटने का षडयंत्र रचा है, जिसे जनता माफ नहीं करेगी.

आपको बता दें कि चार्जशीट में हुड्डा के नजदीकी मंत्री कृष्णमूर्ति हुड्डा के बेटे का नाम चार्जशीट में शामिल है और बीबी बत्रा के पीए का नाम भी दर्ज है. अब यह साफ हो गया है कि आंदोलन की आड़ में अपनी राजनीतिक रंजिशों को अंजाम दिया गया है.

जाट आरक्षण आंदोलन की आड़ लेकर रोहतक को जलाने में शामिल नए नाम सीबीआई की चार्जशीट में दाखिल हुए हैं. उससे साफ हो गया है कि ये कांग्रेसी नेताओं की राजनीतिक रंजिश ही थी, जिसका बुरा परिणाम पूरे हरियाणा की जनता को भुगतना पड़ा. इस चार्जशीट में पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा के नजदीकी नेताओं और पुत्रों के नाम आए हैं. जिनका जाट आरक्षण आंदोलन से कोई संबंध नहीं था. सीबीआई की चार्जशीट से साफ हो गया है कि पूर्व नियोजित साजिश के तहत इन घटनाओं को अंजाम दिया गया.

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जाट आरक्षण आंदोलन की आड़ में कैप्टन वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु के घर और परिवार पर हुए जानलेवा हमले में सीबीआई की चार्जशीट दर्ज होने पर बोलते हुए कहा कि इससे बड़ा घृणित कार्य नहीं हो सकता है और षडयंत्रकारियों को बख्शा नहीं जाना चाहिए.

उन्होंने कहा कि राजनीतिक पार्टी(कांग्रेस) के लोगों ने समाज को बांटने का षडयंत्र रचा है, जिसे जनता माफ नहीं करेगी. मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने इशारों इशारों में हुड्डा पर निशाना साधते हुए बयान दिए.

आपको बता दें कि चार्जशीट में हुड्डा के नजदीकी मंत्री कृष्णमूर्ति हुड्डा के बेटे का नाम चार्जशीट में शामिल है और बीबी बत्रा के पीए का नाम भी दर्ज है. अब यह साफ हो गया है कि आंदोलन की आड़ में अपनी राजनीतिक रंजिशों को अंजाम दिया गया है.


बाकी समाचार