Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

शनिवार, 22 सितंबर 2018

पहला पन्‍ना English लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

कांग्रेस की आपसी फूट और भाजपा की एंटी कंबैसी बना सकती है अभय सिंह को मुख्यमंत्री!

अभय सिंह चौटाला चल रहे हैं सारी सधी हुई चालें.

Congress, BJP, Abhay Singh Chief Minister, naya haryana, नया हरियाणा

19 जून 2018

नया हरियाणा

कांग्रेस की आपसी लड़ाई और भाजपा के खिलाफ एंटी कंबैसी का आज के दिन सबसे ज्याजा फायदा इनेलो के पक्ष में जाता दिख रहा है. दूसरी तरफ इनेलो सुप्रीमो अभय सिंह एसवाईएल के बहाने अपने कार्यकर्ताओं को लगातार सक्रिय रख रहे हैं और उनकी रणनीति के कारण ही मायावती के साथ इनेलो गठबंधन सिरे चढ़ पाया है.
कांग्रेस में भूपेंद्र हुड्डा और अशोक तंवर की लड़ाई कई बार हो चुकी है पर बाकी के नेता भी घात लगाने का कोई मौका छोड़ेंगे नहीं. ऐसे में कांग्रेस अपने आप कमजोर पड़ रही है और दूसरी तरफ राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस अभी लय नहीं पकड़ पाई है. भाजपा अफसरशाही पर लगाम कसने में नाकाम रही है और कानून व्यवस्था के मामले में भी सरकार की पोल कई बार खुल चुकी है.
ऐसे में हरियाणा की जनता इनेलो सुप्रीमो अभय सिंह को मुख्यमंत्री के रूप मोहर लगा सकती है. हालांकि इनेलो के भीतर के अंतर्द्वंद्व को अभय सिंह कैसे साधते हैं, यह देखना दिलचस्प होगा. समस्त हालात को देखते हुए अभय सिंह का सितारा बुलंद हो सकता है. क्योंकि इनेलो को बहुमत मिलता है तो ओमप्रकाश चौटाला और अजय सिंह चौटाला चुनाव न लड़ सकने की बाध्यता के कारण मुख्यमंत्री नहीं बन सकते. उनके बाद अनुभव के आधार पर दो ही बड़े नाम बचते हैं अशोक अरोड़ा और अजय सिंह. अशोक अरोड़ा की तबीयत ठीक नहीं होने के कारण अभय सिंह का ही नाम बचता है. हालांकि सोशल मीडिया पर कांग्रेस और भाजपा के कार्यकर्ता इनेलो में फूट डालने के लिए दुष्यंत चौटाला का नाम उछालते रहते हैं. जबकि पार्टी का पूरा नेतृत्व अभय सिंह के दिशा-निर्देश पर आगे बढ़ रहा है.

अभय सिंह चौटाला सारी सधी हुई चालें चल रहे हैं और अपने कार्यकर्ताओं को लगातार सक्रिय रखने में कामयाब हो रहे हैं. सोशल मीडिया के बजाय अभय सिंह जमीन पर अपनी ठोस दस्तक दे रहे हैं और लगातार अपने कद को बढ़ा रहे हैं.
 


बाकी समाचार