Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

शुक्रवार, 19 जुलाई 2019

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

बावल भूमि अधिग्रहण मामले पर प्रदीप कासनी और अनिल विज में हुई भिडंत!

कांग्रेस में जाते ही प्रदीप कासनी के राजनीतिक बयान आने शुरू हो गए हैं.

Pradip Kasani. Anil Vij,  Bawal land acquisition, Manohar lal, naya haryana, नया हरियाणा

19 जून 2018



नया हरियाणा

पूर्व आईएएस अधिकारी और नए नए कांग्रेसी बने प्रदीप कासनी के कांग्रेस का हाथ थामते ही कासनी और भाजपा में अब राजनीतिक खाई खुद गई है। साथ ही अब इन विरोधियों में जुबानी जंग भी तेज हो गई है। कासनी ने गुरुग्राम के बावल भूमि अधिग्रहण मामले पर सरकार पर निशाना साधा, जिसके बाद हरियाणा के कैबिनेट मंत्री अनिल विज ने कासनी को ही लपेटे में लिया है। इसके अलावा विज ने कांग्रेस के घर-घर संपर्क अभियान पर चुटकी लेते हुए कांग्रेस को कई धड़ों की पार्टी करार दे दिया।

 हरियाणा के चर्चित आईएएस अधिकारी रहे प्रदीप कासनी अब पक्के कांग्रेसी हो गए हैं। जिसके बाद वो कांग्रेस विरोधी पार्टियों के निशाने पर आ गए हैं। कांग्रेस का हाथ थामने के तुरंत बाद कासनी ने भाजपा सरकार को गुरुग्राम के बावल भूमि अधिग्रहण मामले पर घेरते हुए मुख्यमंत्री खट्टर पर भी निशाना साधा था। कासनी के आरोपों पर प्रतिक्रिया देने के लिए सबसे पहले कैबिनेट मंत्री अनिल विज आगे आए और सरकार का बचाव करते हुए उल्टे कासनी को ही लपेटे में ले लिया। अम्बाला में पत्रकारों से बातचीत करते हुए अनिल विज ने कहा कि कासनी अब कांग्रेसी हो गए हैं इसलिए वो कांग्रेस की भाषा बोलेंगे ही। पहले वो खुद कांग्रेस सरकार के खिलाफ मुद्दे उठाते रहे हैं और उन्होंने भूमि से सम्बंधित काफी मुद्दे भी उठाए हैं, तो अब उनकी मजबूरी है कि जो जिस पार्टी को ज्वाइन करता है वो उसी की धुन बजाता है। कासनी के तंवर की साईकल में आस्था जताने के सवाल पर विज ने चुटकी लेते हुए कहा कि उन्होंने हुड्डा के रथ में आस्था व्यक्त न करके कहीं न कहीं हुड्डा पर प्रहार किया है और कासनी ने ज्वाइन भी तंवर ग्रुप को किया है।


बाकी समाचार