Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

रविवार, 24 जून 2018

पहला पन्‍ना English लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

हिसार में महिला पुलिस कर्मचारी ने किया खाकी को दागदार!

दुकानदार का कहना है पुलिस समझौता करने का दबाव डाल रही है परंतु वह समझौता नही करना चाहता।

lady police, hisar, bribe case, naya haryana, नया हरियाणा

11 जून 2018

नया हरियाणा

हिसार में पुलिस की खाकी लगातार दागदार होती रही है और खास कर महिला पुलिस कर्मचारी के रुपये लेने के  मामले सामने आ रहे है। हिसार में महिला थाना की पूर्व थाना प्रभारी सरोज के भ्रष्टाचार  के मामले के बाद हिसार कें सदर थाना की महिला सब इस्पैंक्टर संतोष देवी के भ्रष्टाचार का मामला सामने आया है। दुकानदार को केस में फंसाने का दबाव बनाकर कर महिला एसआई पर वसूली का आरोप है। इस मामले में आर्य नगर निवासी दुकानदार को पुलिस अधीक्षक मनीषा चौधरी को शिकायत दी थी और एसआई की बनाई वीडियों दी थी। सदर पुलिस ने आर्य नगर निवासी दुकानदार की शिकायत पर संतोष देवी के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया है। दुकानदार का कहना है पुलिस समझौता करने का दबाव डाल रही है परंतु वह समझौता नहीं करना चाहता। दुकानदार इस मामले की शिकायत एसटीएससी आयोग दिल्ली को शिकायत की है. उसकी उच्च अधिकारियों व आयोग से मांग है कि आरोपी एसआई को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाना चाहिए.

उल्लेखनीय है कि तीन महीने माह पहले आर्य नगर क्षेत्र की एक दुकान में रेप का वारदात का मामला सामने आया था। दुकानदार किसी काम से बाहर गया था. जाने से पहले अपने दोस्त अशोक को दुकान बंद कर चाबी घर देकर जाने के लिए कहा था। आरोप है कि अशोक ने मौके का फायदा उठा कर दुकान पर एक महिला के साथ दुष्कर्म किया था। कुछ दिनों बाद पीडिता महिला  ने अशोक के विरुद्ध सदर थाना में शिकायत देकर कार्यवाही की गुहार लगाई थी। पुलिस ने केस दर्ज करके महिला एसआई संतोष देवी को जांच सौपी थी और आरोपी अशोक पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। अब दुकान दार विनोद को केस में फसाने का भय दिखाकर उससे सात हजार रुपये की मांग की गई थी। आरोप है कि उसने 4 हजार रुपये जांच अधिकारी को दे दिए थे बाकी रुपये देने के लिए एसआई की तरफ से दबाव बनाया जा रहा था। दुकानदार ने जांच अधिकारी के साथ बातचीत की वीडियों भी बनाया था।

 आर्य नगर निवासी दुकानदार विनोद ने बताया कि उसकी दुकान पर सदर थाने से एसआई संषोत देवी आई थी। एसआई ने उससे कहा कि तुम्हारी दुकान में रेप हुआ है। उसने जांच में बताया कि  मैं किसी  काम से बाहर गया था और जाने से पहले अपने दोस्त अशोक को दुकान बंद कर चाबी घर देने के कहा था और उसके बाद में कुछ नहीं पता। अधिकारी ने कहा कि तुम्हारी दुकान में रेप की वारदात हुई है। मैने पुलिस अधिकारी से कहा कि इस मामले में मेरा निपटारा करवा दो। विनोद ने आरोप लगाया कि इस मामले को निपटारा करने के लिए रुपये लेने देन सौदा तय हुआ था। जिसमें चार हजार रुपये दे दिए थे और तीन हजार रुपये बकाया देने थे। विनोद ने आरोप लगया कि  वह रुपये देने के लिए सदर थाने में गया और 1200 रुपये दे दिए थे।

विनोद ने कहा कि पुलिस अधिकारी से बातचीत के जरिए वीडियो भी सूट किया। उसने कहा कि उस पर काफी दबाव बनाया जा रहा है. उसका घर से निकलना दुबर हो गया है. उसकी मांग है कि भ्रष्टाचार के मामले की आरोपी एसआई को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाना चाहिए। उसने इस बारे में एक शिकायत एससीएटी आयोग दिल्ली में भी दी है और मांग है कि आरोपी को पकडा जाना चाहिए.

 हिसार के डीएसपी जितेंद्र कुमार ने बताया कि  संषोत देवी जो की सदर थाना में कार्यरत है उसका एक वीडियो वायरल हुआ था। इस बार में शिकायत कर्ता भी दी जिसके आधार पर सदर थाने में संषोत के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत केस दर्ज भी किया है। उन्होंने बताया कि वह काफी दिनों से गैर हाजिर भी चल रही थी इसलिए उसे स्पैंड भी कर दिया गया है।

चित्र-टीवी सीरियल का लगाया है. प्रसिद्ध करैक्टर चंद्रमुखी चौटाला का.एफआईआर सीरियल से.


बाकी समाचार