Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

मंगलवार, 15 अक्टूबर 2019

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

करनाल में निजी स्कूल के डीपी की छेड़खानी से तंग आकर लड़की ने नहर में छलांग लगाई!

निसिंग में एक निजी स्कूल स्कूल के DP द्वारा छात्रा के साथ छेड़छाड़ करने को लेकर छात्रा ने तीन बार खुदकुशी करने की कोशिश की

In Karnal, the girl got fed up with the private school DP's flirting and made a leap in the canal!, naya haryana, नया हरियाणा

6 जून 2018



नया हरियाणा

करनाल के निसिंग में एक निजी स्कूल स्कूल के DP द्वारा छात्रा के साथ छेड़छाड़ करने को लेकर छात्रा ने तीन बार खुदकुशी करने की कोशिश की. पीड़िता ने कहा कि मैं dp सर और स्कूल प्रिंसिपल की वजह से डिप्रेशन में चली गई और इससे पहले भी दो बार मैंने आत्महत्या करने की कोशिश की है और आज मैंने नहर में छलांग लगा दी. वहां पर नहा रहे  कुछ लोगों ने मुझे बाहर निकाला और हॉस्पिटल में पहुंचाया.  पुलिस ने भी मेरी सही ढंग से कार्रवाई नहीं की. पुलिस ने आरोपी टीचर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. लेकिन निसिंग थाने के एसएचओ इस पूरे मामले को मीडिया में कुछ भी बताने को तैयार नहीं थे.

वही पूरे मामले को लेकर पीड़ित लड़की का कहना है कि उसे बार-बार डी P सर द्वारा परेशान किया जाता था. उसके साथ छेड़खानी की जाती थी और इसको लेकर मैंने स्कूल की प्रिंसिपल से शिकायत की थी, लेकिन उन्होंने मुझे ही धमकाया और कहा कि किसी को ना कहना इसमें स्कूल की बदनामी होगी. वही पीड़ित लड़की ने कहा कि पुलिस ने भी मेरी कोई सुनवाई नहीं की. जब किसी जज साहब का फोन आया तो पुलिस ने मेरे बयान दर्ज किए और बयान दर्ज करवाने के लिए भी सुबह से लेकर शाम 6:00 बजे तक मुझे थाने में ही बिठाए रखा और मैं जो अपने बयान दर्ज करवाना चाहती थी वह करते नहीं थे. मुझे परेशान कर रहे थे. मुझ पर कई तरह के जवाब दिए जा रहे थे. यहां तक कि खाने और पीने के लिए भी कुछ नहीं दिया गया था. जब मेरे घर वालों ने इसका विरोध किया तो पुलिस वालों ने और s h o निसिंग ने मेरे साथ बदतमीजी की. मेरे परिवार के साथ बदतमीजी की और मारपीट तक की. पुलिस वाले ही स्कूल की प्रिंसिपल को बचा रहे हैं जिसके कारण मैंने यह कदम उठाया और मैं तीन दफा इस dp और प्रिंसिपल से परेशान होकर आत्महत्या करने की कोशिश कर चुकी हूं. वही जो स्कूल की दूसरी लड़कियों के साथ और उनके सामने dP सर ऐसी घटनाओं को अंजाम देते थे. उन पर भी दबाव डाला गया है. पुलिस और स्कूल प्रशासन की ओर से कि वह अपने बयान स्कूल व पुलिस के कहने पर ही अपने बयान दर्ज करवा गई हैं.    
 


बाकी समाचार