Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

शुक्रवार, 17 अगस्त 2018

पहला पन्‍ना English लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

हरियाणा के इतिहास में सबसे महंगी ई बोली, गुरुग्राम में 842 करोड़ में बिका प्लॉट

एक तरफ हरियाणा की वर्तमान सरकार ने एक प्लाट 842 करोड़ का बेचा और दूसरी तरफ हुड्डा के समय दिए गये प्लॉट्स का मामला सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को सौंपा।

The most expensive e-bid in Haryana's history, sale Plot for 842 crores in Gururgram,, naya haryana, नया हरियाणा

2 नवंबर 2017

नया हरियाणा

एक तरफ हरियाणा की वर्तमान सरकार ने एक प्लॉट 842 करोड़ का बेचा और दूसरी तरफ हुड्डा के समय दिए गये प्लॉट्स का मामला सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को सौंपा।
हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण ने गुरूग्राम के संपदा-2 के सैक्टर 47 में नीलामी के माध्यम लगभग 10 एकड़ जमीन की संपति को 842 करोड रूपए में बेच दिया है और यह प्राधिकरण की अब तक की सबसे बड़ी नीलामी थी। इस नीलामी से हरियाणा सरकार और हुड्डा विभाग दोनों को काफी राजस्व मिला है।
        इस संबंध में जानकारी देते हुए हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के एक प्रवक्ता ने बताया कि इस साइट को इस साल 6 अक्टूबर को ई-नीलामी के लिए रखा गया था और 31 अक्तूबर, 2017 को बोली लगाई गई थी। इस साइट को आईकेईए(IKEA), जो एक अंतर्राष्ट्रीय ग्रुप है, को सफलतापूर्वक नीलाम किया गया, जिनका मुख्यालय नीदरलेंड में है। यह कंपनी दुनिया में सबसे बडी फर्नीचर रिटेलर मानी जाती है और यह तैयार फर्नीचर, रसोई के उपकरण और घरेलू सहायक उपकरण को बेचती है। इस ई-नीलामी से हुडा विभाग की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। दरअसल हरियाणा के इतिहास में यह अब तक की सबसे बड़ी ई-नीलामी भी है।
उन्होंने बताया कि हुडा के मुख्य प्रशासक जे. गणेषन के अनुसार यह हुडा के लिए स्थिर राजस्व प्रवाह को सुनिश्चित करने में सहयोग करेगा। यह कोई एक करार नहीं है क्योंकि हमने अगले कुछ महीनों में शहर में अन्य संस्थागत और वाणिज्यिक संपत्तियों की नीलामी की योजना भी बनाई है। मुख्य रूप से रियल एस्टेट में तेजी से बदलते निवेश के परिदृश्य के कारण गुरूग्राम में कम मांग हुई विशेषकर वाणिज्यिक खंड में। जे. गणेषन के अनुसार, हालांकि, हमें अधिक संपत्ति बेचने और गुरूग्राम के संपदा से हुडा के लिए अच्छा राजस्व इकट्ठा करने की उम्मीद है।
उन्होंने बताया कि गुरूग्राम में आईकेईए के आने से शहर के महत्व में इजाफा होगा और व्यापार व निवेशक के अनुकूल गंतव्य के रूप में यह एक वैश्विक बाजार की स्थिति के रूप में उभरेगा। यह साइट ई-नीलामी के लिए 3 बार पहले भी रखी गई थी लेकिन 31 अक्टूबर को इस बहुराष्ट्रीय कंपनी ने भाग लिया और यह सफल रहा। 
        उन्होंने बताया कि मुख्य प्रशासक के अनुसार-जब हम शहर में ऐसी और अधिक साइटों की नीलामी करने की योजना बना रहे हैं और इसके लिए एक अच्छी रणनीति तैयार की गई है। उन्होंने बताया कि इस सौदे से वह काफी आशावादी हैं जिससे व्यापार और रियल एस्टेट बाजार में तेजी आएगी। अचल संपत्ति की कीमतों और घटती मांग की मौजूदा प्रवृत्ति के विपरीत, यह सौदा एक वैश्विक गंतव्य के रूप में शहर की क्षमता को दर्शाएगा।
 


बाकी समाचार