Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2019

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

मनोहर सरकार की मुश्किलें बढ़ा सकते हैं लैब टैक्नीशियन!

एमबीबीएस डॉक्टरों को जो पढ़ाया जाता है उसके बाद टेस्ट करने की विधि और मान्यता की जानकारी लैब टेक्नीशियन को होती है.

Lab technicians can increase the difficulties of the government!, naya haryana, नया हरियाणा

5 जून 2018



नया हरियाणा

एनएचएम आशा वर्कर और आंगनवाड़ी वर्करों के बाद अब प्रदेशभर के साथ रेवाड़ी में भी लैब टेक्नीशियनों ने अपनी चिर परिचित मांग हमारा काम, हमारे हस्ताक्षर को लेकर सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया और अपने प्रतिष्ठान बंद कर सड़कों पर उतर आए। इन्होंने न केवल सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की, बल्कि चेतावनी भी दी कि अगर उनकी मांगों को जल्द पूरा नहीं किया गया तो वे संसद का घेराव करने से भी पीछे नहीं हटेंगे। साथ ही अनिश्चितकाल के लिए भूख हड़ताल पर भी चले जाएंगे। ऐसे में सरकार की मुश्किलें और बढ़ती दिखाई देने लगी है।
जिले के सभी लैब टेक्नीशियन एसोसिएशन के बैनर तले रेवाड़ी के सामान्य अस्पताल में एकत्र हुए और प्रदर्शन करते हुए सिविल सर्जन कार्यालय पहुंचे. जहां इन्होंने सिविल सर्जन को अपनी मांगों से संबंधित ज्ञापन सौंपा।
इनका कहना है कि एमबीबीएस डॉक्टरों को जो पढ़ाया जाता है उसके बाद टेस्ट करने की विधि और मान्यता की जानकारी लैब टेक्नीशियन को होती है. जिसके चलते हुए 25-30 सालों से लगातार कार्य कर रहे हैं। एक तरफ सरकार स्वरोजगार का नारा दे रही है तो वहीं दूसरी ओर युवाओं का रोजगार छीनने पर उतारू है, जिसे वह किसी सूरत में बर्दाश्त नहीं करेंगे। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर समय रहते सरकार ने उनकी मांगों को पूरा नहीं किया तो वह न केवल संसद का घेराव करेंगे, बल्कि कल से अनिश्चित काल के लिए भूख हड़ताल पर जाने से भी पीछे नहीं हटेंगे।
 


बाकी समाचार