Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

बुधवार, 21 अगस्त 2019

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने इनेलो नेता को धमकी दी : अभय सिंह चौटाला

नेता प्रतिपक्ष ने कहा सीएम से हम इस मुद्दे पर बात करेंगे. सीएम को इस मामले में माफी मांगनी चाहिए.

Chief Minister Manohar Lal threatens Inld leader: Abhay Singh Chautala, naya haryana, नया हरियाणा

4 जून 2018



नया हरियाणा

इनेलो नेता व नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला की प्रेस कॉन्फ्रेंस  करते हुए कहा कि हाईकोर्ट में कर्मचारियों को लेकर एक बड़ा फैसला आया है. कांग्रेस ने जाते-जाते कच्चे कर्मचारियों को पक्का करके राजनीतिक लाभ लेने के लिये फैसला लिया था. उस समय भी तत्कालीन एजी ने इस फैसले का विरोध भी किया था और ये एक असंवैधानिक फैसला था.
उन्होंने कहा कि मौजूदा सरकार ने भी साढ़े 3 साल में इन कर्मचारियों को एडजस्ट करने पर ध्यान नहीं दिया.भाजपा सरकार भी इन कर्मचारियों को बाहर करना चाहती थी इसलिए मजबूती से पैरवी नहीं की गई ताकि अपने चहेतों को नौकरी दी जा सके. ये सरकार भी एडहॉक और कॉन्ट्रेक्ट पर कर्मचारी रख रही है. उन्होंने सरकार को सलाह देते हुए कहा कि इस सरकार को सुप्रीम कोर्ट में हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ अपील करनी चाहिए.
 अभय चौटाला ने कानून व्यवस्था पर साधा निशाना
चौटाला ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल पर आरोप  लगाते हुए कहा कि मनोहर लाल ने इनेलो नेता को धमकी दी है और कानून व्यवस्था को खराब करने वालों को सरकार संरक्षण दे रही है. इनेलो पार्टी से करनाल से सीएम के खिलाफ मनोज वाधवा ने चुनाव लड़ा था, मनोज वाधवा के छोटे भाई को नोटबन्दी के दौरान 16 लाख रुपये के लेनदेन के मामले में गिरफ्तार किया गया. बाद में इस मामले को बढ़ा चढ़ाकर दिखाया गया और 70 लाख का मामला बनाया गया इससे परेशानबाद मनोज वाधवा के भाई ने सुसाइड कर लिया. इसके बाद पुलिस ने सुसाइड के मामले में भी परिवार को जिम्मेदार ठहराया.
उन्होंने कहा कि बाद में मनोज वाधवा सीएम से भी मिले और निष्पक्ष जांच की मांग की. मुख्यमंत्री ने जांच के बजाय इनके घर में जाकर कहा जो आप समाज में और प्रेस में बयान दे रहे हो कि सीएम ने जांच नहीं कराई, अगर ऐसे ही बयान दिए तो सीएम ने धमकाते हुए कहा कि इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे.
नेता प्रतिपक्ष ने कहा सीएम से हम इस मुद्दे पर बात करेंगे. सीएम को इस मामले में माफी मांगनी चाहिए. जिन पुलिस कर्मियों ने गलत एफआर दर्ज की उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए.  मीडिया से मनोज वाधवा को इंसाफ दिलाये जाने की गुहार लगाई.
 


बाकी समाचार