Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

शनिवार, 17 अगस्त 2019

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

किस्सा उन दिनों का जब चौधरी चरण सिंह देवीलाल को लगाना चाहते थे खुडे लाइन

राजनीति में कोई स्थायी दुश्मन और दोस्त नहीं होता.

Chaudhary Charan Singh, Devi Lal, INLD, RLD, naya haryana, नया हरियाणा

1 जून 2018



नया हरियाणा

किस्सा सोनीपत लोकसभा सीट के इलैक्शन का है. स्वर्गीय चरण सिंह की तरफ से किताब सिंह मलिक उम्मीदवार थे. उन दिनों चरण सिंह, देवीलाल को खुडे लाइन लगाना चाहते थे.  देवीलाल भी कम नहीं थे. वो आजाद खड़े हो गए. बेचारे थोड़ी सी वोट से हार गए. देवीलाल चुनाव के दौरान लोगों से कहते थे कि इस किताब सिंह मलिक की किताब पाड़ दो. उन दिनों भाजपा भी चरण सिंह के उम्मीदवार का समर्थन कर रही थी. देवीलाल तब कहते थे कि लाला चरण सिंह और चौधरी वाजपेयी की मैं परवाह नहीं करता.

तब उदय सिंह दलाल भी चरण सिंह की वजह से देवीलाल के खिलाफ थे. दलाल पार्टी के रोहतक दफ्तर में देवीलाल से मिलने आये. देवीलाल ने उसे डॉट पिलाई. दलाल कहने लगे कि चौधरी साहब मेरा कोई कसूर नहीं. मैंने तो पहचानने में गलती कर दी थी. जब आपका और चरण सिंह का दंगल हुआ तो सारा देश कह रहा था कि चरण सिंह ही जीतेंगे. लेकिन जब आप ने चरण सिंह को गधावार दिया तो मेरी आंखे खुली.

पवन बंसल की पुस्तक से साभार


बाकी समाचार