Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

सोमवार , 22 अप्रैल 2019

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

राव इंद्रजीत और मनोहर लाल खट्टर के बीच हुई  खटर-पटर

राव इंद्रजीत ने आरोप लगाया कि सरकार सांसदों की लोकसभा में मदद नहीं करेगी.

Khataar-Patar, Rao Inderjit,  Manohar Lal Khattar, naya haryana, नया हरियाणा

28 मई 2018



नया हरियाणा

यह पहली बार नहीं है जब हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और केंद्रीय राज्यमंत्री राव इंद्रजीत की खटर-पटर हुई हो. राव ने सीधे निशाना साधते हुए कहा कि मनोहर सरकार ने अपने किए वायदे पूरे नहीं किए हैं. जो काम केंद्र सरकार ने किए हैं, उनका श्रेय मनोहर सरकार ले रही है. 
केंद्रीय राज्यमंत्री व स्थानीय सांसद राव इंद्रजीत की सरकार से नाराजगी रविवार को खुलकर सामने आ गई। राव इंद्रजीत ने केंद्र सरकार के चार साल पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री मनोहर लाल व प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला के सामने ही प्रदेश सरकार पर गंभीर आरोप जड़ दिए। उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद नहीं है कि यह सरकार सांसदों की लोकसभा चुनाव में मदद करेगी। केंद्र सरकार के कार्यक्रमों में उन्हें न बुलाए जाने पर भी उन्होंने विरोध दर्ज कराया। 
वहीं, राव के इस व्यवहार से सीएम भी हैरान रह गए। उन्होंने बातों को हल्का करते हुए कहा कि मैं राव इंद्रजीत का कायल हो गया हूं। राव साहब ने बात को दिल में नहीं रखा, बल्कि मंच पर मेरे सामने ही कह दिया, लेकिन ये घर की बात है। दरअसल, प्रधानमंत्री के कार्यक्रम में शिरकत करने के बाद मुख्यमंत्री को सबसे पहले हीरो होंडा चौक पहुंचना था। यहां पर उन्हें हीरो होंडा अंडरपास व आईएमटी मानेसर चौक फ्लाईओवर का उद्घाटन करना था। इसके लिए केंद्रीय राज्यमंत्री राव इंद्रजीत दोपहर करीब 2:30 कार्यक्रम स्थल पर पहुंच गए।
करीब 3 बजे मुख्यमंत्री यहां आने की बजाय सेक्टर-14 कॉलेज में आयोजित एक अन्य कार्यक्रम में चले गए। इससे राव इंद्रजीत नाराज हो गए। शाम में पावर ग्रिड में केंद्र सरकार के चार साल पूरे होने पर आयोजित संगोष्ठी में मंच से संबोधन की बारी आई तो राव इंद्रजीत का गुस्सा बाहर निकलते देर नहीं लगी। यहां पर मुख्यमंत्री मनोहरलाल, प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष सुभाष बराला, पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर सिंह भी मौजूद थे। इनके अलावा शहर के मौजिज लोग भी थे।


बाकी समाचार