Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

मंगलवार, 17 सितंबर 2019

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने इनेलो और हुड्डा पर बोला हमला!

उन्होंने कहा कि किसानों के लिए काम हम कर रहे हैं और किसानों का नेता बनने के लिए हाय तौबा मचा रहे हैं हुड्डा।

मनोहर लाल, अभय सिंह, भूपेंद्र हुड्डा, naya haryana, नया हरियाणा

20 मई 2018



नया हरियाणा

 हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने इनेलो व कांग्रेस के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर अब तक का सब से बड़ा हमला बोला है। सीएम ने आज इन इनेलो के नेताओं व कांग्रेस के भूपेंद्र सिंह हुड्डा के कार्यकालों की पोल खोल कर जनता के सामने रख दी है। 

जैसे जैसे हरियाणा में लोकसभा और विधान सभा के चुनाव नजदीक आते जा रहे, वैसे-वैसे प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल विपक्षियों पर आक्रमक होते जा रहे है। मुख्यमंत्री ने इन दोनों राजनैतिक दलों की कार्य प्रणाली को खोल कर जनता के सामने रखना शुरू कर दिया है। 

इस कढी में सीएम मनोहर लाल ने कहा कि स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने की जिम्मेवारी पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा की थी, क्योंकि वे उस समय वे इस आयोग के चेयरमैन भी थे,
परन्तु उन्होंने अपने कार्यकाल में न तो इसे लागू किया और न ही इस के मध्य नजर किसानों के लिए कुछ किया, केवल स्वयं को किसान नेता सिद्ध करने की हाय-तौबा मचा कर रखी, परन्तु हमने किसानों के लिए स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट से भी कहीं अधिक काम किया है। 

किसानों की आय दोगुनी हो, इसेसंवेदनशील मुद्दे  पर अपने आप को किसान नेता कहने वालों ने कभी सोचा भी नहीं होगा। हमने किसानों को नुकसान से ऊपर उठाने के लिए भावान्तर योजना लागू की है, हमने इस योजना में प्रदेश के किसानों को कहा कि घाटा सरकार का और फायदा किसान का, उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने किसानों के लिए फसल बीमा योजना लागू करके हजारों किसानों को लाभ दिया और प्राकृतिक आपदा के कारण फसलों के हुए खराबे में प्रति एकड़ 10 हजार नहीं, बल्कि 12 हजार रुपये मुआवजा दिया। अब प्रदेश के लोगों को सोचना होगा कि किसान हितैषी हम है या वो?

मुख्यमंत्री ने इनेलो पर हमला बोलते हुए कहा कि इनेलो ने अपनी उपस्थिति दर्ज करने के लिए एसवाईएल के पानी का मुद्दा उठाया है। उनका कहना है कि यदि हरियाणा सरकार प्रदेश में एसवाईएल का पानी नहीं लाएगी तो हम जेल भरो आंदोलन करेंगे। इस पर मुख्यमंत्री ने चुटकी लेते हुए कहा कि तुम्हारे कारनामों के कारण ही आज इनके बडे जेलों में पडे है। 

मुख्यमंत्री ने कहाकि अपने कार्यकाल में इनेनो को कभी एसवाईएल का पानी याद नहीं आया, जब भारतीय जनता पार्टी ने एसवाईएल के मुद्दे को माननीय सुप्रीम कोर्ट में उठाया, जिसका अंतिम निर्णय शीघ्र ही आने वाला है। जिस की इन नेताओं को भी कहीं से इसकी भनक लग गई, अब वे बिना कुछ करें अर्थात उंगली कटवाकर शहीद होने का दर्जा प्राप्त करना चाहते है। जबकि आने वाले कुछ ही समय में एसवाईएल का फैसला हरियाणा के पक्ष में होगा और हरियाणा को उसके हिस्से का पानी मिलेगा। हरियाणा सरकार इसके लिए सख्ती से कार्यवाही कर रही है।

उन्होंने एक और चुटकली लेते हुए कहा कि इनेलो के नेताओं का भला हो,जिन्होंने उनके कहने पर ही अदालत में हरियाणा का मजबूत पक्ष रखने के लिए सहमति दिखाई है। इस में हरियाणा सरकार भी अपने वरिष्ठ अधिवक्ताओं के माध्यम से अपना पक्ष मजबूती से रख रही है। 

मुख्यमंत्री ने इस मौके परप्रदेश की जनता को आगाह किया कि वे ऐसे राजनैतिक लोगों से सावधान रहे, जो केवल अपनी-अपनी राजनैतिक रोटिया सेकते है। जो बिना कुछ करे अपने हाथ से ही अपनी पीठ थप-थपाने का कार्य कर रहे है। उन्होंने कहा कि विपक्ष मुद्दाहीन हो गया है, वे केवल लोगों को गुमराह कर रहे है। प्रदेश की जनता के लिए हम काम कर रहे है, हमने बिना किसी भेदभाव के काम किया है। मुख्यमंत्री ने खुले मन से कहा कि प्रदेश की जनता का कोई भी सार्वजनिक कार्य हो, उसके लिए हरियाणा सरकार हर संभव प्रयास से इसे पूरा करने के लिए तैयार है, इसके लिए सरकार के पास पर्याप्त बजट है। हमने वर्ष 2014 के 60 हजार करोड़ के बजट को बढ़ाकर 115 लाख करोड़ किया है। हम किसी से भेदभाव नहीं करते, बल्कि हरियाणे की अढाई करोड़ जनता मेरे लिए एक परिवार की तरह है।

Tags:

बाकी समाचार