Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

मंगलवार, 21 मई 2019

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

जुलाना की बेटी दया ने कबड्डी में जीता गोल्ड

इससे पहले 2014 में उत्तराखंड में हुई सर्कल कबड्डी प्रतियोगिता में सिल्वर मेडल जीता था।

, naya haryana, नया हरियाणा

15 मई 2018



नया हरियाणा

मलेशिया में जीत के बाद अपने घर लौटी दया शर्मा का जोरदार स्वागत गांव में पहुंचने पर दया शर्मा का जोरदार स्वागत
     दया शर्मा ने हरियाणा सरकार से मांग की है कि सर्कल कबड्डी को भी नेशनल कबड्डी के बराबर लेकर जाएं और जो बच्चे अच्छा खेल कर आते हैं. उन्हें सरकार सरकारी नौकरियों पर अच्छे पद दे. जुलाना से मलेशिया में खेलने गई जुलाना की बेटी दया शर्मा मलेशिया में सर्कल कबड्डी में पाकिस्तान की टीम को हराकर आज अपने घर जुलाना में पहुंची. स्वागत समारोह देखकर दया शर्मा ने कहा कि जुलाना वासियों ने मेरा जो स्वागत किया है बहुत अच्छा लग रहा है.
 दया शर्मा ने कहा कि आगे होने वाले गेम्स में भी भारत के लिए गोल्ड मेडल लेकर आऊंगी. दया शर्मा ने हरियाणा सरकार से मांग की है कि सर्कल कबड्डी को भी नेशनल गेम का दर्जा देना चाहिए और खिलाड़ियों को अच्छी नौकरियां भी देनी चाहिए. मेरा उन लोगों से भी यह कहना है जो लोग लड़कियों को कोख में मरवा देते हैं. मैं उनसे कहना चाहूंगी लड़कियां किसी भी क्षेत्र में कम नहीं है. लड़कियों को लड़कों से कम नहीं समझना चाहिए. लड़कियों को मौका दिया जाए तो लड़कियां भी कुछ करके दिखा सकती हैं. 
 घरवालों का कहना है कि मलेशिया में जाकर पाकिस्तान की टीम को हराकर जो जीत हासिल की है. उस जीत से दयाल शर्मा ने अपने पूरे देश का नाम रोशन कर दिया है और आने वाले दिनों में दया इसी तरह गोल्ड मेडल जीतकर आती रहेगी और अपना व अपने देश का नाम रोशन करती रहेगी और हम यह कहना चाहते हैं कि बेटी किसी भी क्षेत्र में बेटों से कम नहीं है. यह साबित कर के दया शर्मा ने दिखा दिया है कि हमें बेटियों को किसी भी क्षेत्र में कम नहीं समझना चाहिए.
कस्बे के वार्ड-2 निवासी किसान जयभगवान की बेटी दया का मलेशिया में होने वाली सीनियर एशियन सर्कल कबड्डी प्रतियोगिता के लिए चयन हुआ है। पिता ने बताया कि मलेशिया में सीनियर सर्कल कबड्डी प्रतियोगिता शनिवार से शुरू होगी। इससे पहले 2014 में उत्तराखंड में हुई सर्कल कबड्डी प्रतियोगिता में सिल्वर मेडल जीता था। वर्ष 2009 में औरंगाबाद में हुई कबड्डी प्रतियोगिता में कांस्य पदक जीता था। चंडीगढ़ में 23 से 25 अप्रैल को हुई प्रतियोगिता में सिल्वर जीता था। 

Tags:

बाकी समाचार