Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

शुक्रवार, 16 नवंबर 2018

पहला पन्‍ना English लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

हरियाणा सर्वे : 22 जिलों की 90 सीटों पर भाजपा, इनेलो और कांग्रेस का क्या रहेगा हाल

हालांकि यह सर्वे जब हुआ उस समय बसपा-इनेलो गठबंधन नहीं हुआ था.

 haryana opinion poll, haryana vidhan sabha seats, haryana survey, haryana opinion poll 2019 election, BjpHaryana, CongressHaryana, Inld, Bsp, naya haryana, नया हरियाणा

10 मई 2018

नया हरियाणा

हरियाणा के न्यूज चैनल जनता टीवी पर आने वाले सर्वे में अब तक 22 जिलों की 90 सीटों का रिजल्ट घोषित हो चुका है. जिसमें कई चौकाने वाले नतीजे सामने आए हैं. इन 90 सीटों में से 45 पर भाजपा, इनेलो को 24 और कांग्रेस को 19 सीट मिलती हुई नजर आ रही हैं. दो सीटों पर टाई का मामला बन रहा है.

1.यमुनानगर जिले की 4 सीटों में से 3 भाजपा और 1 कांग्रेस के खाते में जाते हुए दिख रही है, जबकि इनेलो का मामला गड़बड़ लग रहा है. हालांकि यह सर्वे इनेलो-बसपा गठबंधन से पहले का है तो जाहिर है कि इनेलो को गठबंधन की बढ़त जरूर मिलेगी.

2.गुरुग्राम जिले की 4 सीटों पर भाजपा का परचम लहराता हुआ दिख रहा है, जबकि कांग्रेस और इनेलो के हिस्से पिछले चुनाव की तरह इस बार भी खाली रहता दिख रहा है पलड़ा.

3.सोनीपत जिले की 6 सीटों में से 4 भाजपा और 2 कांग्रेस के खाते में जाते हुए दिख रही हैं, जबकि इनेलो का सुपड़ा साफ होता हुआ दिख रहा है.

4. सिरसा जिले की 5 सीटों में से 4 इनेलो और 1 कांग्रेस के खाते में आते हुए दिख रही है, जबकि यहां भाजपा का खाता खुलता नजर नहीं आ रहा है.

5.फरीदाबाद जिले की 6 सीटों में से 3 भाजपा, 2 कांग्रेस और 1 इनेलो के खाते में जाते हुए दिख रही हैं.

 

6. फतेहाबाद जिले की 3 सीटों पर भाजपा, इनेलो और कांग्रेस तीनों को एक-एक सीट मिल रही है. 2014 के चुनाव में फतेहाबाद जिले की टोहाना, फतेहाबाद और रतिया सीटों पर सीधे-सीधे इनेलो और भाजपा के बीच टक्कर हुई थी. टोहाना सीट से भाजपा के सुभाष बराला ने इनेलो के निशान सिंह को हराया था. सुभाष बराला को निशान सिंह ने कड़ी टक्कर दी थी. भाजपा से सुभाष बराला-49,462, इनेलो से निशान सिंह- 42,556, आजाद देवेंद्र सिंह बाबली-38,282, कांग्रेस से परमवीर सिंह -33,111. फतेहाबाद से इनेलो के बलवान सिंह दौलतपुरिया ने हजंका के दूडा राम को हराया था. भाजपा की स्वतंत्र बाला तीसरे स्थान पर रही थी. रतिया सीट से इनेलो के प्रो. रविंद्र बलियाला ने भाजपा की सुनीता दुग्गल को हराया था. दोनों के बीच मुकाबला बहुत नजदीक रहा था. सुनीता दुग्गल मात्र 453 वोटों से हार गई थी.

7. रेवाड़ी जिले की 3 सीटों में से भाजपा को 2 और कांग्रेस को शून्य व इनेलो को 1 सीट मिलती हुई लग रही है.बावल, कोसली और रेवाड़ी सीट. 2014 के चुनाव में कोसली से भाजपा के विक्रम सिंह ठेकेदार ने इनेलो के जगदीश यादव को हराया. बावल से भाजपा के बनवारी लाल ने इनेलो के श्याम सुंदर को हराया. और रेवाड़ी से भाजपा के रणधीर सिंह कापड़ीवास ने इनेलो के सतीश यादव को हराया.

8. नूहं जिले की 3 सीटों में से दो कांग्रेस को और एक इनेलो को. 2014 के चुनाव में नूहं से इनेलो के जाकिर हुसैन ने कांग्रेस के अफताब अहमद को हराया. फिरोजपुर झिरका से इनेलो के नसीम अहमद ने निर्दलीय मम्मन खान को हराया. पुन्हाना सीट से निर्दलीय रहीश खान ने इनेलो के मोहम्मद इलियास को हराया. भाजपा यहां तीसरे और कांग्रेस चौथे नंबर पर रही.

9. पलवल जिले की 3 सीटों में से तीन की तीन इनेलो को मिलती हुई लग रही हैं. 2014 के चुनाव में हथीन से इनेलो के केहर सिंह ने भाजपा के हर्ष कुमार को हराया. होडल से कांग्रेस के उदय भान ने इनेलो के जगदीश नायर को हराया. पलवल से कांग्रेस के करण सिंह दलाल ने भाजपा के दीपक मंगला को हराया.

10. जींद जिले की 5 सीटों में से 5 की 5 इनेलो को मिलती हुई नजर आ रही हैं. 2014 में जुलाना सीट से इनेलो के परमिंदर ढुल ने कांग्रेस के धर्मेंद्र ढुल को हराया. सफीदो से निर्दलीय जसबीर देसवाल ने भाजपा की वंदना शर्मा को हराया. जींद से इनेलो के हरिचंद्र मिढा ने भाजपा के सुरेंद्र सिंह बरवाला को हराया. उचाना सीट से भाजपा की प्रेमलता ने इनेलो के दुष्यंत चौटाला को हराया. नरवाना से इनेलो के पिरथी नंबरदार ने भाजपा की संतोष रानी को हराया.

11. पंचकूला जिले की 2 सीटों में एक भाजपा और एक कांग्रेस को मिलती हुई लग रही हैं. कालका से 2014 में भाजपा की लतिका शर्मा ने इनेलो के प्रदीप चौधरी को हराया. पंचकूला से भाजपा के ज्ञानचंद गुप्ता ने इनेलो के कुलभूषण गोयल को हराया है.

12. महेंद्रगढ़ जिले की 4 सीटों में से 3 भाजपा को और एक कांग्रेस को मिलती हुई लग रही है. अटेली सीट से भाजपा की संतोष यादव ने इनेलो के सतबीर को हराया. महेंद्रगढ़ से भाजपा के रामबिलास शर्मा ने कांग्रेस के रावदान सिंह को हराया. नारनौल से भाजपा के ओमप्रकाश ने इनेलो की कमलेश को हराया. नांगल चौधरी से भाजपा के अभय सिंह ने इनेलो की मंजू को हराया.

13. करनाल जिले की 5 सीटों में से पांच की पांच भाजपा को मिलती हुई लग रही हैं. 2014 में नीलोखेड़ी से भाजपा के भगवानदास कबीरपंथी ने इनेलो के मामूराम को हराया था. इंद्री से भाजपा के करणदेव कंबोज ने इनेलो की उषा कश्यप को हराया. करनाल से मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने निर्दलीय जयप्रकाश गुप्ता को हराया. घरौंडा से भाजपा के हरविंदर कल्याण ने इनेलो के नरेंद्र सांगवान को हराया. असंध से भाजपा के बख्शीश सिंह विर्क ने इनेलो के मराठा विरेंद्र सिंह को हराया.

14. हिसार जिले की 7 सीटों में से 4 इनेलो को और 3 भाजपा को मिलती हुई लग रही हैं. 2014 में आदमपुर सीट से हजंका के कुलदीप बिश्नोई ने इनेलो के कुलवीर बैनीवाल को हराया. उकलाना सीट से इनेलो के अनूप धानक ने भाजपा की सीमा गैबीपुर को हराया. नारनौंद सीट से कैप्टन अभिमन्यु ने इनेलो के राजसिंह मोर को हराया. हांसी सीट से हजंका की रेणुका बिश्नोई ने इनेलो के उमेद सिंह लोहान को हराया. बरवाला सीट से इनेलो के वेद नारंग ने भाजपा के सुरेंद्र पुनिया को हराया. हिसार सीट से भाजपा के कमल गुप्ता ने कांग्रेस की सावित्री जिंदल को हराया. नलवा सीट से इनेलो के रणबीर सिंह गंगवा ने हजंका के चंद्रमोहन को हराया.

15. अंबाला जिले की 4 सीटों में से 2 कांग्रेस को और एक भाजपा को मिलती हुई लग रही है. एक पर मामला टाई हो रहा है, मतलब यहां मुकाबला कांटे का होने की संभावना है. नारायण गढ़ से 2014 में भाजपा के नायब सिंह सैनी ने कांग्रेस के रामकिशन को हराया था. अंबाला छावनी से भाजपा के अनिल विज ने कांग्रेस के निर्मल सिंह को हराया. अंबाला शहर से भाजपा के असीम गोयल ने हरियाणा जनहित पार्टी के विनोद शर्मा को हराया. मुलाना से भाजपा की संतोष चौहान सारवान ने इनेलो के राजबीर सिंह को हराया. सढौरा से भाजपा के बलवंत सिंह ने इनेलो की पिंकी छप्पर को हराया था.

16. झज्जर जिले की 4 सीटों में से 2 भाजपा और 2 कांग्रेस को मिलती हुई लग रही हैं. बहादुरगढ़ सीट से भाजपा के नरेश कौशिक ने कांग्रेस के राजेंद्र जून को हराया. बादली सीट से भाजपा के ओमप्रकाश धनखड़ ने निर्दलीय कुलदीप वत्स को हराया. झज्जर सीट से कांग्रेस की गीता भुक्कल ने इनेलो के साधुराम को हराया. बेरी सीट से कांग्रेस के रघुवीर सिंह कादियान ने निर्दलीय चतर सिंह पहलवान को हराया.

17. रोहतक जिले की 4 सीटों में से 2 कांग्रेस, 1 पर भाजपा और एक पर मामला टाई होता हुआ लग रहा है. 2014 में महम सीट से कांग्रेस के आनंद सिंह डांगी ने भाजपा के शमशेर खरकड़ा को हराया. गढ़ी सांपला-किलोई से कांग्रेस के भूपेंद्र हुड्डा ने इनेलो के सतीश नांदल को हराया. रोहतक से भाजपा के मनीष ग्रोवर ने कांग्रेस के भारत भूषण बत्तरा को हराया. कलानौर सीट से कांग्रेस की शंकुतला खटक ने भाजपा के राम अवतार बाल्मीकि को हराया.

18. कैथल जिले की 4 सीटों में से 2 भाजपा, 1 कांग्रेस और 1 इनेलो के खाते में जाते हुए दिख रही है. 2014 के चुनाव में गुहला से भाजपा कुलवंत राम बाजीगर ने कांग्रेस के दिल्लुराम बाजीगर को हराया. कलायत से निर्दलीय जयप्रकाश ने इनेलो के रामपाल माजरा को हराया. कैथल से कांग्रेस के रणदीप सुरजेवाला ने इनेलो को कैलाश भगत को हराया. पुंडरी से निर्दलीय दिनेश कौशिक ने भाजपा के रणधीर सिंह गोलन को हराया.

19.कुरुक्षेत्र जिले की 4 सीटों में से 2 भाजपा, 1कांग्रेस और 1 इनेलो के खाते में जाते हुए दिख रही हैं. 2014 में लाडवा से भाजपा के पवन सैनी ने इनेलो के बचनकौर बडशामी को हराया. शाहबाद से भाजपा के कृष्ण बेदी ने इनेलो के रामकरण को हराया. थानेसर से भाजपा के सुभाष सुधा ने इनेलो के अशोक अरोड़ा को हराया. पेहवा से इनेलो के जसविंद्र संधु ने भाजपा के जयभगवान शर्मा डीडी को हराया.

20. पानीपत जिले की 4 सीटों में से 4 भाजपा के खाते में जाती दिख रही हैं. पानीपत ग्रामीण से भाजपा के महिपाल ढांडा ने निर्दलीय धारा सिंह रावल को हराया. पानीपत शहर से रोहिता रेवड़ी ने कांग्रेस के विरेंद्र शाह को हराया. इसराना से भाजपा के कृष्ण कुमार ने कांग्रेस के बलबीर सिंह को हराया. समालखा से निर्दलीय रविंद्र मछरौली ने कांग्रेस के धर्मसिंह छौक्कर को हराया.

21. दादरी जिले की 2 सीटों में से 2 भाजपा के खाते में जाती दिख रही हैं. बाढडा सीट से भाजपा के सुखविंद्र मांडी ने कांग्रेस के रणबीर महेंद्रा को हराया. दादरी से इनेलो के राजदीप फोगाट ने भाजपा के सोमवीर सांगवान को हराया.

22. भिवानी जिले की 4 सीटों में से 2 भाजपा और 2 इनेलो के खाते में जाती दिख रही हैं. 2014 के चुनाव में लोहारू सीट से इनेलो के ओमप्रकाश बड़वा ने भाजपा के जेपी दलाल को हराया. भिवानी से भाजपा के घनश्याम सर्राफ ने इनेलो की निर्मला सर्राफ को हराया. तोशाम से कांग्रेस की किरण चौधरी ने इनेलो की कमला रानी को हराया. बवानीखेड़ा से भाजपा के बिशंभर बाल्मीकि ने इनेलो के दया भुरटाना को हराया.

अगर आपको सर्वों पर ही यकीन नहीं है तो ये सर्वे आपके किसी काम का नहीं है और आप किसी दल के नेता या कार्यकर्ता है तो ये आपको सीखने और हालात समझने में काफी मदद कर सकते हैं.


बाकी समाचार