Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

शुक्रवार, 25 मई 2018

पहला पन्‍ना English लोकप्रिय राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात समाज और संस्कृति समीक्षा Faking Views

सीएम मनोहर लाल ने हासिल की इजराइली प्रौद्योगिकी की जानकारी

सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली मात्र 30 प्रतिशत पानी पर काम कर सकती है और इससे लगभग 70 प्रतिशत पानी की बचत होती है।

 CMOHaryana,  Israeli technology, CM Manohar Lal, naya haryana, नया हरियाणा

8 मई 2018

नया हरियाणा

हरियाणा के किसानों की आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने के इच्छुक, मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने आज तेल अवीव के निकट स्थित खेतों का दौरा किया और नवीनतम इजराइली प्रौद्योगिकी और विशेषज्ञता के बारे सीधे जानकारी प्राप्त करने के लिए किसानों के साथ बातचीत की। मुख्यमंत्री के नेतृत्व में एक उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल इज़राइल दौरे पर गया है।
मुख्यमंत्री ने स्थानीय किसानों से यह पता लगाने के लिए बातचीत की कि उन्होंने कृषि के क्षेत्र में नई तकनीकों को कैसे अपनाया और उत्पादन एवं उत्पादकता, दोनों पर इसका क्या प्रभाव पड़ा। उन्होंने फसल विविधिकरण और नई फसलों को अपनाने के बारे में भी विस्तार से चर्चा की, जिसके फलस्वरूप इज़राइल के किसान संसाधनों के उपयोग में कटौती करते हुए उत्पादन को दोगुना करने में सक्षम हुए हैं। 
 मनोहर लाल ने  नंदन जैन सहित सूक्ष्म सिंचाई उद्योगों के अन्य विशेषज्ञों के साथ भी बातचीत की और यह जानना चाहा कि हरियाणा में इन पद्धतियों को बेहतर तरीके से कैसे अपनाया जा सकता है। 
यहां यह उल्लेख करना उचित होगा कि पानी की बचत करने हेतु फसलों की पैदावार के लिए हरियाणा में सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली अपनाई जा रही है। सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली मात्र 30 प्रतिशत पानी पर काम कर सकती है और इससे लगभग 70 प्रतिशत पानी की बचत होती है।
इसके अलावा, हरियाणा के किसान बागवानी फसलों की खेती की ओर भी आकर्षित हो रहे हैं। जहां कई किसान बागवानी फसलों को अपना रहे हैं, वहीं दूसरी ओर इस क्षेत्र में पहले से ही कार्य कर रहे किसान और अधिक क्षेत्र पर सब्जियों एवं फलों की खेती कर रहे हैं। बागवानी विभाग सब्जियों की खेती के लिए बड़े पैमाने पर सहयोग दे रहा है।
मुख्यमंत्री के नेतृत्व में इज़राइल गए उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल में सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्य मंत्री  कृष्ण कुमार शामिल हैं। 




बाकी समाचार