Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

रविवार, 23 सितंबर 2018

पहला पन्‍ना English लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

ओपिनियन पोल नूहं: इनेलो, कम से कम इस जिले में तो सबक ले लो!

ओपिनियन पोल ने नूहं में इंडियन नेशनल लोकदल के लिए खतरे की घंटी बजा दी है। जानिए कैसे?

nuh opinion poll, haryana opinion poll, 2018 - 2019, haryana election, naya haryana, नया हरियाणा

25 अप्रैल 2018

नया हरियाणा

हरियाणा के  न्‍यूज चैनल जनता TV का रियल टाइम ओपिनियन पोल ‘ब्‍लैक बॉक्‍स : अबकी बार किसकी सरकार’लगातार जारी है। बुधवार को जनता TV ने अपने इस खास कार्यक्रम के तहत हरियाणा के 21 वें जिले नूहं के ब्‍लैक बॉक्‍स खोले। नूहं को मेवात के नाम से भी जाना जाता है। इस जिले की रुझान काफी चौंकाने वाले थे। ब्‍लैक बॉक्‍स से निकले रुझान खासतौर पर इंडियन नेशनल लोकदल के लिए खतरे की घंटी बजाने वाले थे। यहां पर इनेलो का दबदबा कमजोर पड़ता नजर आ रहा है। हालांकि जनता TV ने ये सर्वे उस वक्‍त कराया था जब इनेलो और बीएसपी के गठबंधन का एलान नहीं हुआ था। गठबंधन के बाद यहां के सियासी समीकरण बदल भी सकते हैं।

जनता TV के इस कार्यक्रम में नूहं से कांग्रेस की ओर सेअख्तर हुसैन शामिल हुए है। जो कांग्रेस के  प्रदेश सचिव हैं। वहीं इनेलो की ओर से फिरोजपुर झिरका से विधायक नसीम अहमद आए थे। बीजेपी की ओर से खुर्शीद रजा ने कार्यक्रम में हिस्‍सा लिया। रियल टाइम ओपिनियन पोल में निष्‍पक्ष और स्‍वतंत्र राय रखने के लिए वरिष्‍ठ पत्रकार मोहन सिंह को बुलाया गया था।जनता TV के सलाहकार संपादक शशिरंजन ने नूहं जिले की तीनों विधानसभा सीटों नूहं, फिरोजपुर झिरका और पुन्‍हाना के सीलबंद ब्‍लैक बॉक्‍स को इन नेताओं से चेक कराया। इसके बाद वोटों की लाइव काउंटिंग कराई गई।

यहां का हर राउंड नेताओं के दिल की धड़कनों को बढ़ाने वाला था। पहले राउंड की काउंटिंग में यहां की तीनों सीटों पर इनेलो ने बढ़त बना रखी थी। जबकि कांग्रेस और बीजेपी का खाता तक नहीं खुल पाया था। लेकिन, दूसरे राउंड के रुझान आते ही समीकरण बदल गए। दूसरे राउंड में यहां पर दो सीटों पर कांग्रेस ने बढ़त बना ली जबकि एक सीट पर इनेलो आगे चल रही थी। कांग्रेस और इनेलो के बीच सियासत की ये जंग चौथे और फाइनल राउंड पर तक जारी रही। यानी फाइनल रुझानों के मुताबिक यहां की तीन सीटों में दो सीटें कांग्रेस के खाते में जाती हुई नजर आ रही थीं। जबकि एक सीट इनेलो जीतती दिखी।

अगर जनता TV के रियल टाइम ओपिनियन पोल के रुझानों की तुलना 2014 के विधानसभा चुनावों के नतीजों से करते हैं तो यहां पर इनेलो को नुकसान होता हुआ नजर आ रहा है, क्‍योंकि 2014 के चुनाव में इस जिले की तीन सीटों में दो सीटों पर इनेलो ने जीत दर्ज की थी। जबकि एक सीट पर निर्दलीय उम्‍मीदवार जीता था।


बाकी समाचार