Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

शनिवार, 30 मई 2020

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

भाजपा का उद्देश्य देश के नागरिकों का भला करने वाले कानून बनाने का है - सुभाष बराला

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर विपक्ष झूठ व भ्रम फैला रहा हेै

सुभाष बराला, भारतीय जनता पार्टी, नागरिकता संशोधन कानून, कांग्रेस, अमित शाह, सोनिया गांधी, naya haryana, नया हरियाणा

26 दिसंबर 2019



नया हरियाणा

 

भारतीय जनता पार्टी हरियाणा ने आज रोहतक में नागरिकता संशोधन कानून पर जन जागरण अभियान के तहत एक कार्यशाला आयोजित की | जिसमें भारतीय जनता पार्टी हरियाणा के प्रदेश पदाधिकारी जिला अध्यक्ष जिला प्रभारी विधायक सांसद और सूचीबद्ध कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। नागरिकता संशोधन कानून 2019 पर जन जागरण अभियान के तहत आयोजित कार्यशाला का शुभारंभ सांसद व हरियाणा के प्रभारी डॉ अनिल जैन प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला हरियाणा भाजपा के संगठन मंत्री श्री सुरेश भट ने दीप प्रज्वलित कर किया।
 कार्यशाला  को संबोधित करते हुए भारतीय जनता पार्टी हरियाणा के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला ने कहा कि हम हरियाणा प्रदेश की जनता की ओर से नागरिकता संशोधन कानून बनाने पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी गृह मंत्री अमित शाह जी का आभार और धन्यवाद करते हैं| जनसंघ के समय से ही हमारा उद्देश्य राष्ट्रवाद का रहा देश के नागरिकों का भला करने वाले कानून बनाने में रहा और यह सब उस समय सोचा गया जब हम सत्ता में भी नहीं थे पर अब यह बिल कानून का रूप ले चुका है इसलिए जनता तक हमें अपनी बातें पहुंचाने का अवसर है कि हम जो कहते हैं वही करते हैं हम अपनी बातों को लेकर जनता के बीच में जाए कि विरोधी और विपक्ष के लोग इस कानून पर जनता को गुमराह कर रहे हैं बहुत पहले 1947 में महात्मा गांधी ने कहा था की ऐसे लोगों को भी देश की नागरिकता मिले| अब महात्मा गांधी की कांग्रेस सही कह रही थी या सोनिया गांधी सही कह रही है जनता से पूछना है कि महात्मा गांधी की कांग्रेस सही थी या सोनिया की जो विदेशी सोच रखती है| इसके अलावा भी बहुत सारे कांग्रेस के नेताओं ने समय-समय पर इस प्रकार की नागरिकता के पक्ष में बात उठाई है।

 भाजपा प्रभारी एवं राज्यसभा सांसद डॉ. अनिल जैन ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर विपक्ष झूठ व भ्रम फैला कर देश के वातावरण को खराब करने का प्रयास कर रहा है, जबकि कानून को लेकर देश के प्रधानमंत्री व गृहमंत्री साफ कर चुके है कि देश के किसी भी धर्म व किसी भी व्यक्ति का इस कानून से कोई लेना देना नहीं है और देश के 130 करोड लोगों में से एक भी नागरिक प्रभावित नहीं होगा। उन्होंने कहा कि यह कानून एक निश्चित वर्ग के लिए है, जो धार्मिक प्रताडना का शिकार होकर जिन्होंने देश छोडना पड़ा है। डॉ. अनिल जैन ने कहा कि अब तक इस कानून में नौ बार संशोधन किया जा चुका है। उन्होंने यह भी कहा कि समय समय पर समस्या विशेष को ध्यान रखते हुए कानून में बदलाव किए गए। सन 1973-74 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इन्द्रा गांधी ने भी नागरिकता को मंजूरी दी थी और इससे पहले जब बंगलादेश बना तो उस दौरान भी भारत में आकर बसे ऐसे नागरिको को नागरिकता दी थी, लेकिन अब वोट बैक की राजनीति के चक्कर में कांग्रेस भ्रम फैला कर अराजकता फैलाने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि संशोधन कानून को लेकर पूरे प्रदेश में 12 जनवरी को मैराथन आयोजित की जाएगी और इसके अलावा जनजागरण अभियान भी चलाया जाएगा। नागरिकता संशोधन बिल के समर्थन में करीब दस लाख लोगों से सम्पर्क कर प्रधानमंत्री को धन्यवाद पत्र भी भेजे जाएगे। भाजपा प्रभारी वीरवार को गांव खरावड स्थित गजानिया बैकेट हॉल में प्रदेश स्तरीय बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अगर इतिहास देखा जाए तो 1947 में महात्मा गांधी ने कहा था कि जो गैर मुस्लिम हिन्दु व सिख है और पाकिस्तान में नहीं रहना चाहते, भारत सरकार का कर्तव्य बनता है कि उनका सम्मान करना व नौकरी देना और उनके हितो की सुरक्षा करना है। उन्होंने कहा कि 25 नवंबर 1947 में कांग्रेस ने प्रस्ताव पास किया था कि पाकिस्तान से आने वाले व भविष्य में आने वाले गैर मुस्लिम हिन्दु व सिखो के हितो की रक्षा करना भारत सरकार का दात्यिव है। इसी तरह 2003 में तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने राज्यसभा में आसम के संदर्भ में कहा था कि बंगलादेश में अलसंख्यको पर अत्याचार हो रहे है, उन्हें नागरिकता दे देनी चाहिए, लेकिन अब समझ में नहीं आ रहा है कि आखिर कांग्रेस अब इस कानून का विरोध क्यो कर रही है। उन्होंने कहा कि साफ है कि कानून की आड में कांग्रेस देश में अराजकता का माहौल बनाना चाहती है, जबकि समय समय पर कांग्रेस ने ही इस कानून में संशोधन किया है और उस वक्त किसी ने भी इस कानून का विरोध नहीं किया। अनिल जैन ने अब भाजपा इस कानून को लेकर पूरे प्रदेश में जनजागरण अभियान चलाएगी। प्रदेश के दस लाख लोगों से सम्पर्क किया जाएगा और बिल के समर्थन में करीब एक करोड धन्यवादी पत्र प्रधानमंत्री को भेजे जाएगे। इस अवसर पर प्रदेश संगठन महामंत्री सुरेश भट्ट, प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला, गृहमंत्री अनिल विज, सांसद डॉ. अरविंद शर्मा, पूर्व राज्यसभा सांसद चौधरी बिरेन्द्र सिंह, सांसद संजय भाटिया, नसीब सैनी, पूर्व शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा सहित प्रदेश भर से सभी विधायक, मंत्री व अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे।


बाकी समाचार