Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

रविवार, 22 सितंबर 2019

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

कठुआ रेप केस : पीड़ित की पहचान उजागर करने वालों को हो सकती है 6 महीने की जेल

दिल्ली हाई कोर्ट ने इस मामले का संज्ञान लेते हुए फैसला लिया है.

Delhi HC directs, media houses to deposit 10 lakh each, for disclosing identity of  Kathua rape victim, naya haryana, नया हरियाणा

18 अप्रैल 2018



नया हरियाणा

कठुआ रेप केस के मामले में दिल्ली हाइकोर्ट ने आदेश दिया है कि पीड़ित लड़की की पहचान उजागर/सार्वजनिक करने वालों को हो जेल हो सकती है और यह सजा 6 महीने तक की जेल हो सकती है। दूसरी तरफ मीडिया घरानों पर 10 लाख तक का जुर्माना हो सकता है.

कठुआ रेप मामला और राजनीति

साल 2015 में जब से पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी और बीजेपी ने जम्मू और कश्मीर में एक अजीब तरह का गठबंधन बनाकर सरकार बनाई तब से पीडीपी को ज़मीन पर आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है.लेकिन जम्मू के कठुआ ज़िले के आठ साल की बच्ची के साथ हुए गैंगरेप मामले ने सीएम महबूबा मुफ़्ती को उस विषम स्थिति से निपटने में मदद की जिसकी वजह से जम्मू और कश्मीर आमने-सामने थे.महबूबा मुफ़्ती ने जिस तरह बीजेपी के दो मंत्रियों चंद्र प्रकाश गंगा और लाल सिंह को इस्तीफ़ा देने के लिए मजबूर किया है उसके बाद से एक तरह का परिवर्तन दिखाई दे रहा है. इन दोनों मंत्रियों ने कठुआ रेप केस में अभियुक्त के समर्थन में हिंदू एकता मंच के बैनर तले रैली निकाले जाने में एक अहम भूमिका अदा की थी.क्योंकि रेप एक मुस्लिम बच्ची के साथ हुआ है और सभी अभियुक्त हिंदू हैं. ऐसे में ये मामला लोगों को हिंदू-मुस्लिम में बांटता है.

 


बाकी समाचार