Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

बुधवार, 11 दिसंबर 2019

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

देश की सांस्कृतिक धारा के प्रवाह हैं राम : सुभाष बराला

सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला सुनाया है।

सुभाष बराला, naya haryana, नया हरियाणा

10 नवंबर 2019



नया हरियाणा


भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने राम जन्म भूमि में सुप्रीम कोर्ट के दिए गए अहम फैसले का स्वागत करते हुए कहा है कि सर्वोच्य न्यायालय का यह निर्णय देश की जनता की जन भावना के अनुरूप ही है । वर्षो से चले आ रहे विवाद पर सर्वोच्य न्यायालय ने अपने निर्णय से पूर्णविराम लगा दिया है।जिससे कि भगवान श्री राम के भव्य मंदिर निर्माण का रास्ता साफ हो गया है । न्यायालय द्वारा देश मे सामाजिक सौहार्द और भाईचारे की नई इबारत लिखी गई है । 

बराला ने कहा कि न्यायालय ने सभी पक्षों को अपनी बात रखने के लिए पर्याप्त समय दिया और सभी पहलुओं पर बारीकी से विचार करते हुए अपना फैसला सुनाया है । न्यायालय के फैसले को किसी को हराने और जीताने के संदर्भ में नही देखना चाहिए। देश के प्रत्येक नागरिक का फर्ज बनता है कि न्यायालय के फैसले का सम्मान करें और भाईचारे और सौहार्द को बनाए रखे ।

बराला ने बताया कि भगवान श्री राम देश की सांस्कृतिक धारा के प्रवाह की तरह है वे जितने हिन्दू के है उतने ही मुसलमान के वे देश के जनमानस के मन में एक आदर्श और मर्यादा की प्रतिमूर्ति के रूप में प्रतिस्थापित है। आज इस फैसला ने उसी जनमानस के विश्वास और आस्था पर मुहर लगाई है । उन्होंने कहा कि न्याय के मंदिर ने दशकों पुराने मामले का सौहार्दपूर्ण तरीके से समाधान कर दिया।

Tags:

बाकी समाचार