Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

गुरूवार, 19 सितंबर 2019

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

महागठबंधन करके अपना अस्तित्व बचाने में लगा विपक्ष,भाजपा बनाएगी नए रिकार्ड : बराला

बीजेपी 75 पार का चुनावी नारा दे चुकी है।

सुभाष बराला, naya haryana, नया हरियाणा

2 सितंबर 2019



नया हरियाणा

जन आशीर्वाद यात्रा के समापन पर 8 सितम्बर को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रोहतक के मेला मैदान में एक रैली को सम्बोधित करेंगे। मुख्यमंत्री मनोहर लाल उस दिन जुलाना से जन आशीर्वाद यात्रा आरम्भ करते हुए मेला मैदान रोहतक में इसका समापन करेंगे और रैली में पहुंचेंगे। यह जानकारी भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला ने दी , वे आज प्रदेश मुख्यालय में एक पत्रकार वार्ता को संबोधित कर रहे थे।
 उन्होंने बताया कि आज रैली स्थल पर भूमि पूजन भी किया गया है और हमारी जन आशीर्वाद यात्रा आज 12 वें दिन में प्रवेश कर चुकी है जो भिवानी से चलके कलानौर, महम, तोशाम,नलवा ,आदमपुर और शाम को हिसार में इसका ठहराव होगा। उन्होंने बताया कि जिस प्रकार ग्यारह दिन मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्त्व में यह यात्रा चली है और जो अपार स्नेह और समर्थन प्रदेशवासियों का देखने को मिल रहा है उससे लगता है कि पार्टी आगामी विधानसभा चुनावों में 75 पार के नारे से कही आगे निकल जायेगी और स्पष्ट दिख रहा है कि प्रदेश का जनमानस मुख्यमंत्री मनोहर लाल को एक बार फिर सरकार बनाने का आशीर्वाद दे रहा है।उन्होंने कहा कि इस यात्रा ने पुरे हरियाणा की राजनैतिक तस्वीर को बदल के रख दिया है। 
बराला ने हाल ही में हुए लोकसभा चुनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि आज तक किसी भी राजनैतिक दल ने प्रदेश की सभी 10 लोकसभा सीटे नहीं जीती थी लेकिन प्रदेशवासियों के अपार जनसमर्थन की वजह से भाजपा ने यह कारनामा करते हुए एक रिकार्ड कायम किया है। उन्होंने कहा कि इसके कारण से भी विरोधी पार्टियाँ हताश और निराश थे और जन आशीर्वाद यात्रा जैसे ही शुरू हुई और मुख्यमंत्री को जनता का अपार आशीर्वाद मिलना शुरू हुआ , उसके बाद तो विरोधी दलों और विरोधी नेताओं के होश फाख्ता हो गए हैं। 
उन्होंने बताया कि गुरुग्राम में हुई कोर ग्रुप की बैठक में चार बिन्दुओं जों 30 तारीख की यात्रा के बाद का कार्यक्रम, पन्ना प्रमुखों का पंजीकरण , प्रधानमंत्री की रैली और 10 सितम्बर से 14 सितम्बर तक हर बूथ के ऊपर डोर टू डोर अभियान के कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए वरिष्ठ नेताओं की जिमेदारियां लगाई गई है और सबने अपने अपने कार्यक्रम तय करते हुए जिलों का प्रवास आरम्भ कर दिया है। उन्होंने कहा कि 8 सितम्बर को होने वाले पन्ना प्रमुख सम्मलेन का एक भव्य स्वरूप सबको देखने को मिलेगा। 
उन्होंने बताया कि प्रदेश के 20 हजार चार सौ इकतालीस बूथ हैं उनके पन्ना प्रमुख बनाने का कार्य सम्पन्न हो चुका है और सभी पन्ना प्रमुखों को इस रैली में आमंत्रित किया है।  उन्होंने बताया कि एक से तीन सितम्बर तक पन्ना प्रमुखों का पंजीकरण किया जाएगा। हमारा जिला अध्यक्ष , मंडल अध्यक्ष, शक्ति केद्र प्रमुख बूथ के अध्यक्ष के साथ मिलकर के हर बूथ के पन्ना प्रमुखों के साथ सेल्फी लेकर अपलोड करेगा। उन्होंने स्वयं उनके गाँव डांगरा के बूथ की टीम के साथ सेल्फी लेकर पोस्ट की है। ये कार्य प्रांत के हर छोटे बड़े नेता ने करना आरम्भ कर दिया है। 
  बराला ने जानकारी सांझा करते हुए बताया कि प्रधानमंत्री की रैली के तुरंत बाद 10 सितम्बर से 14 सितम्बर तक हर बूथ के ऊपर डोर टू डोर अभियान चलाने का कार्यक्रम तय किया गया है जिसका निर्णय पिछली कोर ग्रुप की बैठक में लिए गया था। इस सारे कार्यक्रम को गति देने के लिए इसे समयबद्ध सीमा में पूरा करने के लिए पार्टी के सभी कोर ग्रुप के सदस्य तथा वरिष्ठ नेताओं की सभी 22 जिलों में जिम्मेदारियां तय की हैं। 
   उन्होंने एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि भाजपा के लिए संगठन सबसे अहम है और और हमने पहली बार पन्ना प्रमुखों की व्यवस्था प्रदेश में लोकसभा चुनावों में की और नतीजा सभी 10 लोकसभा सीटों पर विजय प्राप्त की इसलिए पन्ना प्रमुख हमारी अहम् कड़ी है और यह विधानसभा चुनावों में भी निश्चित तौर पर सफल रहने वाली है। 
   कुछ विरोधी पार्टियों को एकजुट करने के लिए खाप पंचायतो की भूमिका को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि उन्हें इसकी जानकारी नहीं है कि कौन सी खाप पंचायते उनसे मिली है और यह चौटाला परिवार का अंदरूनी मामला है की वे साथ आएंगे या नहीं। लेकिन ऐसा लगता है कि जितना आगे वे लोग बढ़ चुके है और उनकी आपसी खटास  देखने को मिली है। उन्हें नहीं लगता कि उनका राजनैतिक मिलन संभव होगा, लेकिन अगर कोई परिवार इक्कट्ठा होता है तो यह अच्छी बात है क्योंकि हरियाणा में पारिवारिक इकाई का अपना एक महत्त्व है।
 उन्होंने विरोधी पार्टियों के गठबंधन होने के सवाल पर कहा कि किसी का भी कोई महागठबंधन हो जाए प्रदेश में उसका कोई अस्तित्व बचने वाला नहीं है क्योंकि हरियाणा की जनता ने जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान जिस प्रकार का आशीर्वाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल को दिया है उसके चलते हमने जो 75 पार का नारा दिया है हम उससे कही आगे जाने वाले हैं। 
    टिकर वितरण को लेकर उन्होंने कहा कि 2013 से बड़े बड़े नेता भाजपा में शामिल होने शुरू हुए थे जो आज तक जारी है।  पहली बार परिवारवाद, इलाकावाद , सीएलयू और भ्रष्टाचार को नकारते हुए जनता ने भाजपा में विश्वाश जताया है , सत्ता सौपी है l मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पुरानी व्यवस्थाओं को दरकिनार करते हुए आम जनता की सरकार देने का काम किया है।  इस बात से प्रभवित होकर सब लोग भाजपा परिवार में आ रहे हैं। इसलिए टिकट वितरण में पूर्व में भी कोई समस्या नहीं आई थी और भविष्य में भी किसी प्रकार की परेशानी नहीं आने वाली है। । टिकट देने का पार्टी का अपना एक पैमाना है, जिसे पार्टी की चुनाव समिति तय करती है और उसी आधार पर योग्य उम्मीदवारों को दी जाएगी। 
       अर्थव्यवस्था को लेकर पूछे गए एक सावाल के जवाब में उन्होंने कहा कि जीडीपी और महंगाई को जो अनुपात है, उन दोनों को अगर आप गौर से देखेंगे तो कही कोई चिंता की बात नहीं है और सभी पहलुओं को ध्यान में रखते हुए केन्द्रीय सरकार चल रही है।  जीडीपी भी धीरे धीरे रफ्तार पकडे और मंहगाई भी काबू में रहे ऐसी व्यवस्था देश व प्रदेश की सरकार द्वारा की जा रही है।

Tags:

बाकी समाचार