Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

मंगलवार, 24 अप्रैल 2018

पहला पन्‍ना English लोकप्रिय राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात समाज और संस्कृति समीक्षा Faking Views

ओपिनियन पोल : क्‍या पंचकूला में मुरझा रहा है ‘कमल’?

कार्यक्रम में बरवाला में मक्खियों की समस्‍या के अलावा पंचकूला का डंपिंग ग्राउंड और एचएमटी की बंदी का मामला छाया रहा।

opinion poll panchkula, inld, bjpharyana, congressharyana, haryana opinion poll, 2018 - 2019, naya haryana, नया हरियाणा

17 अप्रैल 2018

नया हरियाणा

सोमवार को हरियाणा के न्‍यूज चैनल जनता TV के रियल टाइम ओपिनियन पोल ‘ब्‍लैक बॉक्‍स : अबकी बार किसकी सरकार’ कार्यक्रम में पंचकूला का सर्वे दिखाया गया। सर्वे के रुझान काफी चौंकाने वाले थे। जिससे भारतीय जनता पार्टी को सबक लेने की जरुरत है। सर्वे के रुझानों के मुताबिक बीजेपी यहां पर अपनी 2014 वाली ताकत खोती हुई नजर आ रही है। जबकि विपक्ष उस पर हावी होता हुआ दिखाई दे रहा है। हालांकि पंचकूला का ये सियासी मुकाबला काफी दिलचस्‍प रहा। सर्वे का हर राउंड एक नया धमाका लेकर आ रहा था।

       जनता TV के इस कार्यक्रम में पंचकूला से बीजेपी विधायक ज्ञानचंद गुप्‍ता शामिल हुए। जबकि कांग्रेस की ओर से तरुण भंडारी ने शिरकत की। वहीं इंडियन नेशनल लोकदल की ओर से सीमा चौधरी ने इस कार्यक्रम में हिस्‍सा लिया। निष्‍पक्ष और स्‍वतंत्र राय रखने के लिए वरिष्‍ठ पत्रकार डॉ सुरेंद्र धीमान को बुलाया गया था। जनता TV के सलाहकार संपादक शशिरंजन ने पंचकूला जिले के दोनों विधानसभा सीट पंचकूला और कालका के सीलबंद ब्‍लैक बॉक्‍स को सभी नेताओं से चेक कराया। इसके बाद दोनों विधानसभा क्षेत्रों की लाइव काउंटिंग कराई गई। चार चरणों में दोनों विधानसभा सीटों की काउंटिंग पूरी हुई। पहले राउंड में यहां की दोनों सीटों में एक-एक सीट पर बीजेपी और कांग्रेस ने बढ़त बना रखी थी। जबकि इनेलो का खाता तक नहीं खुल पाया था। दूसरे राउंड के रुझान चौंकाने वाले थे। यहां की दोनों सीटों पर कांग्रेस आगे चल रही थी। हालांकि तीसरे रुझान में बीजेपी नेता ने उस वक्‍त थोड़ी राहत की सांस ली जब यहां की दोनों सीटों पर भारतीय जनता पार्टी आगे आ गई।

       हालांकि फाइनल रुझान में एक बार फिर यहां की सियासी परिस्थितियां बदल गईं। यहां पर एक सीट कांग्रेस के खाते में जाती दिखी, जबकि एक सीट पर बीजेपी का कब्‍जा होता नजर आ रहा था। अगर इन रुझानों की तुलना 2014 के विधानसभा चुनावों के नतीजों से करते हैं तो बीजेपी को नुकसान होता दिख रहा है। क्‍योंकि 2014 में यहां की दोनों सीटों पर बीजेपी ने जीत हासिल की थी। कालका विधानसभा से बीजेपी की लतिका शर्मा विधायक हैं। जबकि पंचकूला से बीजेपी के ज्ञानचंद गुप्‍ता चुनाव जीते थे। लेकिन, सर्वे के रुझान दोनों ही नेताओं को परेशान करने वाले हैं। वहीं इनेलो के भी हालात कुछ ठीक नहीं हैं। हालांकि इनेलो नेता सीमा चौधरी ने दावा किया है कि अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में दोनों ही सीटों पर जीत उन्‍हीं की पार्टी होगी। कुछ ऐसे ही दावे बीजेपी और कांग्रेस के नेता भी करते नजर आए। इस कार्यक्रम के दौरान तीनों पार्टियों के नेताओं के बीच स्‍थानीय मुद्दों को लेकर काफी नोंकझोंक भी हुई। कार्यक्रम में बरवाला में मक्खियों की समस्‍या के अलावा पंचकूला का डंपिंग ग्राउंड और एचएमटी की बंदी का मामला छाया रहा।


 


बाकी समाचार