Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

शनिवार, 20 जुलाई 2019

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

स्वाति यादव ने लगाए दुष्यंत चौटाला परिवार पर बड़े आरोप!

भिवानी-महेंद्रगढ़ लोकसभा सीट से स्वाति यादव ने जेजेपी की टिकट पर चुनाव लड़ा था.

Swati Yadav, Ajay Chautala, Dushyant Chautala, Digvijaya Chautala, naya haryana, नया हरियाणा

8 जुलाई 2019



नया हरियाणा

भिवानी-महेंद्रगढ़ लोकसभा सीट से जेजेपी प्रत्याशी रही स्वाति यादव ने कुछ दिन पहले जेजेपी को छोड़कर बीजेपी का दामन थाम लिया. उनके बीजेपी में शामिल होने के बाद जेजेपी वर्करों में काफी आक्रोश था, जिसको लेकर उन्होंने सोशल मीडिया पर अपनी भड़ास भी निकाली.

<?= Swati Yadav, Ajay Chautala, Dushyant Chautala, Digvijaya Chautala; ?>, naya haryana, नया हरियाणा

अब कल से सोशल मीडिया पर स्वाति यादव के नाम एक मैसेज वायरल हो रहा है, इस मैसेज की सच्चाई के बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता कि ये सच है फेक. हां इस मैसेज में अजय चौटाला परिवार पर खूब सारे आरोप लगाए गए हैं, आरोपों में कितनी सच्चाई है कहा नहीं जा सकता-

वायरल मैसेज ---

अजय चौटाला के परिवार की सच्चाई खोल दी :- 
 स्वाति यादव और उसके पिता ने |
कौन है। स्वाति यादव ?
Euro Schools Groups के मालिक सत्यवीर यादव नौताना की बेटी ।
सन् 2014 मे INLD पार्टी मे शामिल होकर अटेली विधानसभा से चुनाव लडा 2nd न० पर रहे, पहले हजकां के भिवानी - महेन्द्रगढ लोकसभा के अध्यक्ष थे ।

जजपा छोडने के कारण स्वंय पिता -पुत्री ने निम्न बताए:-
कारण:-1
2014 के विधानसभा चुनाव में उनके पिता को अजय चौटाला द्वारा अपने पिता व भाई के पिछे से 2. करोड मे टिकट दी
और चुनाव के आखिरी समय पर निर्दलीय उम्मीदवार की साहयता करना,उन्होंने बताया अजय चौटाला ने अपने हिस्से की 45 सीटे करोडो मे देकर 40 सीटो पर इनैलो को 400-500 के अंतर से भी कम वोटो से हरवाया 40 सीटो पर और इनैलो 20 जीती थी 
मतलब 60 सीट जीतकर सरकार बन रही थी।
उन्होंने बताया यह बात उन्हेाने  अपने राजनीतिक भविष्य के लिए दबा दी।
कारण न०2
दुष्यंत समय समय पर पार्टी फंड के नाम से रूपय लेता रहा और 2016 मे ही लोकसभा सीट पक्की कर दी की सत्यवीर नौताना आप उम्मीदवार होंगे।
भिवानी जेल भरो अंदोलन मे न जाने को दिग्विजय द्वारा call करना,
मंथन 2016 मे बन चुका था जिसको स्वाति अमेरिका से चला रही थी उसमे केवल दुष्यंत का प्रचार और अभय चौटाला का Negative प्रचार करवाया जा रहा था
मंथन में 300 युवा है उनको वेतन उनके बैंक खातो मे रूपय स्वाति देती थी जो 80 lakh प्रतिमाह था
परिवार जैसे तैसे तोड़ा  फिर JJP बन गई तो जींद चुनाव मे 3 करोड मांगे गए वो भी दिए 40 गाड़ी भेजी 18 दिन के लिए ।
नैना चौटाला के पोग्राम पुरे हरियाणा मे कही भी हो गाड़ी भेजनी पडती थी
लोकसभा चुनाव आते ही दुष्यंत ने मना कर दिया टिकट के लिए बोले युवा चेहरा रमेश पालाडी के बेटे युद्धवीर को लडवा रहे है
स्वाति को पता चलते ही वो खुद भारत लौटी और उसने दुष्यंत पर दबाव बना कर टिकट ली परंतु चुनाव मे आखिरी समय महेन्द्रगढ के पद्धाधिकारी हिसार बुला लिए व हिसार के लिए 15 करोड लिए ।
चुनाव में हार के बाद स्वाति नाराज थी स्वाति का कहना था कि मानो ऐसा हो २हा है पार्टी के मुखिया उनके पिता है। बार -बार पार्टी फंड के नाम से रुपय लेना।
स्वाति ने  कुछ रूपय वापिस की मांग की परंतु फोन न उठाना दोनों भाईयो के द्वारा दिगविज्य खुद personal Business के लिए 20 करोड लेकर गया था 

मुख्य कारण स्वाति की जिद थी BJP मे जाना, उनके पिता congress मे जाना चाहते थे 
परंतु बेटी की जिद्ध थी 

सत्यवीर नौताना ने बताया अभय चौटाला एक साफ व खुली किताब की तरह है। ,परंतु दुष्यंत हमेशा मोदी जी की copy करता है , यादव जी ने बताया अभय चौटाला पुरा सम्मान देते थे परंतु उनको दबाया खराब किया जा २हा है  
स्वाति ने बताया कि ये नारे खुद लगवाता है दुष्यंत हर प्रोग्राम में पहले ही बाहर के लोग भेजे जाते है। ३न युवाओ से सोशल मीडया पर काम करवाया जाता है
स्वाति का सुझाव  बताया कि  300-400 युवा है। वे अपनी जिंदगी परिवार पर ध्यान दे उनकी वजह से और भी लोग अपना समय खराब कर रहे है अपना कैरियर शिक्षा पर ध्यान दे । दुष्यंत केवल फेसबूक का c.m है 
अंत मे बताया सत्यवीर जी ने अब वे अपने Business या चुनाव लड़ने का मौका दिया तो लडेगे। स्वाति भी लड सकती है विधानसभा चुनाव ।


बाकी समाचार