Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

बुधवार, 20 नवंबर 2019

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

अनिल विज एक पागल मंत्री है, जो और पागल हो गया है- अशोक तंवर

उन्होंने कहा कि  योग दिवस के नाम पर राजनीति बंद होनी चाहिए।

Anil Vij is a mad minister, who has gone crazy, Yoga Day, Congress state president Ashok Tanwar, अनिल विज एक पागल मंत्री है, जो और पागल हो गया है, योग दिवस, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर, naya haryana, नया हरियाणा

21 जून 2019



नया हरियाणा

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज पर विवादित टिप्पणी करते हुए अशोक तंवर ने उन्हें पागल बता दिया। तंवर ने कहा कि हरियाणा का एक पागल मंत्री है जो और पागल हो गया है। सिरसा में पत्रकारों से बातचीत करते हुए अशोक तंवर ने यह बयान दिया। 

उन्होंने  अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की  शुभकामनाएं देते हुए कहा कि  योग दिवस के नाम पर राजनीति बंद होनी चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया कि योग दिवस समारोह के नाम पर व्यर्थ में करोड़ों रुपए जाया किए जा रहे हैं। एक दिन के योग से जनता को कोई लाभ नहीं मिलने वाला । चहेतों को लाभ पहुंचाने के लिए इस प्रकार के आयोजन भाजपा द्वारा करवाए जा रहे हैं।  उन्होंने कहा कि योग दिवस की बजाय देश में हेल्थ सिस्टम सुधारने की जरूरत है। अगर बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं होती तो बिहार में लीची खाने से इतने बच्चों की मौत न हुई होती। सिरसा में पत्रकारों से बातचीत में अशोक तंवर ने दावा किया कि हरियाणा में विधानसभा चुनाव में परिवर्तन का बड़ा दौर आएगा। 

भाजपा के एक राष्ट्र एक चुनाव के नारे को भी उन्होंने अव्यावहारिक बताया। उन्होंने कहा कि अगर सरकार इस बारे में गंभीर होती तो लोकसभा चुनाव के साथ ही हरियाणा, महाराष्ट्र, झारखंड सहित अन्य राज्यों के चुनाव करवाए जा सकते थे। तीनों राज्यों में भाजपा ही सत्तासीन है।  पार्टी संगठन को लेकर उठ रहे सवालों पर अशोक तंवर ने कहा कि चुनाव हारने वाले लोग ही संगठन की बात उठाते हैं। उन्हें अपनी सक्रियता दिखाई नहीं देती। संगठन को केवल उन्होंने ही पिछले 5 सालों से सक्रिय रखा हुआ है। प्रत्येक आंदोलन उनके नेतृत्व में प्रदेश में चलाया गया। तंवर ने कहा कि कोई भी संगठन खड़ा करना सामूहिक जिम्मेवारी है। ऐसे में नेताओं को बयानबाजी करने की बजाय संगठन को मजबूत बनाने के लिए काम करना चाहिए।

  फरीदाबाद में पोस्टर पर खुद के सीएम लिखे जाने पर तंवर ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कार्यकर्ताओं की भावना अच्छी बात है लेकिन पार्टी की मजबूती के लिए काम करना चाहिए। अशोक तंवर ने एक बार फिर दोहराया कि वे विधानसभा का चुनाव नहीं लड़ेंगे। जिन नेताओं को चुनाव में हार का सामना करना पड़ा है उन्हें भी चुनाव नहीं लड़ना चाहिए। नए लोगों को आगे लाने के लिए ऐसे नेताओं को इस बार चुनाव मैदान में नहीं उतरना चाहिए।अशोक तंवर ने हरियाणा सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि प्रदेश में आपराधिक मामले तेजी से बढ़ रहे हैं पूरा प्रदेश अपराधिक तत्वों की शरण स्थली बना हुआ है।


बाकी समाचार