Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

शनिवार, 17 नवंबर 2018

पहला पन्‍ना English लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

भिवानी ओपिनियन पोल : भिवानी में कांग्रेस का सूपड़ा साफ

कांग्रेस के गढ़ भिवानी में हो रहा है कांग्रेस का सूपड़ा साफ. इनेलो और भाजपा के हिस्से में आ रही है चारों सीटें.

Bhiwani Opinion Poll2018, Congress sweeps in Bhiwani, inld, bjpharyana, haryana opinion poll, 2018 - 2019, naya haryana, नया हरियाणा

27 मार्च 2018

नया हरियाणा

जनता TV के ओपिनियन पोल की इस वक्‍त हरियाणा के राजनैतिक गलियारों में काफी चर्चा हो रही है। सोमवार को जनता TV ने भिवानी जिले की सियासी तस्‍वीर पेश की। ओपिनियन पोल के रुझान कांग्रेस के नेताओं की परेशानी बढ़ा सकते हैं। जबकि बीजेपी के लिए थोड़ी राहत की खबर है। ओपिनियन पोल के रुझान सामने आने के बाद कांग्रेस नेता किरण चौधरी के खेमे में खलबली मच सकती है। हालांकि जनता TV के ओपिनियन पोल के रुझानों को फाइनल नतीजे नहीं माना जा सकता है। असली चुनावों में तस्‍वीर बदल भी सकती है।

दरअसल, जनता TV ने अपने रियल टाइम ओपिनियन पोल में भिवानी की चारों विधानसभा क्षेत्रों में गुप्‍त मतदान कराया था। इसके लिए जनता TV की टीम ने भिवानी, तोशाम, लोहारु और बवानीखेड़ा के कई क्षेत्रों में लोगों से वोटिंग कराई। ओपिनियन पोल के लिए वोटिंग की पूरी की पूरी प्रक्रिया को कैमरे में कैद किया गया। सोमवार को हर पार्टी के नुमाइंदों के सामने सील बंद ब्‍लैक बॉक्‍स की तस्‍दीक कराने के बाद वोटों की गिनती कराई गर्इ। इस कार्यक्रम में कांग्रेस पार्टी की ओर से प्रदेश महासचिव राम प्रताप शर्मा ने हिस्‍सा लिया। जबकि भारतीय जनता पार्टी की ओर से प्रदेश उपाध्‍यक्ष जेपी दलाल मौजूद थे। इनेलो के जिलाध्‍यक्ष सुनील लांबा भिवानी से अपनी पार्टी का प्रतिनिधित्‍व कर रहे थे। स्‍वतंत्र राय पेश करने के लिए वरिष्‍ठ पत्रकार केसरी शर्मा को बुलाया गया था।

कार्यक्रम के दौरान पार्टी के नेताओं के बीच काफी तीखी नोकझोंक देखने को मिली। जनता TV के सलाहकार संपादक शशिरंजन ने कार्यक्रम में स्‍थानीय मुद्दों के अलावा नेताओं की आपसी खींचतान पर भी चुटकी ली। हालांकि कांग्रेस नेता का कहना था कि उनके यहां कोई गुटबाजी नहीं है। कुछ ऐसा ही हाल इनेलो का भी था। उनका भी यही कहना था कि इनेलो में कोई गुट नहीं है। सभी कार्यकर्ता ओमप्रकाश चौटाला के मार्गदर्शन में काम करते हैं। ओपिनियन पोल में भिवानी की मतगणना चार चरणों में पूरी हुई। पहले राउंड के रुझान में तो यहां कांग्रेस का खाता तक नहीं खुला। जबकि दूसरे और तीसरे राउंड के रुझान में पार्टियों की स्थितियां लगातार बदलती रही।

भिवानी के फाइनल रुझान काफी चौंकाने वाले रहे।जनता TV के ओपिनियन पोल में भिवानी की चार सीटों में दो सीटें बीजेपी के खाते में जाती हुई नजर आ रही हैं। जबकि दो सीटें पर इंडियन नेशनल लोकदल ने बढ़त बना रखी थी। कड़े मुकाबले के बाद भी कांग्रेस यहां पिछड़ती हुई नजर आई। जिस पर कांग्रेस नेता राम प्रताप शर्मा का कहना था कि ऐसा कभी हो ही नहीं सकता। तोशाम की सीट किरण चौधरी की परंपरागत सीट है जहां से उन्‍हें कोई नहीं हरा सकता। ओपिनियन पोल के रुझानों से इतर सभी दलों ने अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में यहां की चारों की चारों सीट अपने खाते में जाने का दावा किया। लेकिन, जनताTV का ओपिनियन पोल कुछ और ही इशारा कर रहा था।


बाकी समाचार