Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

गुरूवार, 22 अगस्त 2019

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

5 बार मुख्यमंत्री रहे चौधरी ओमप्रकाश चौटाला का अपमान करने वाले सुभाष बराला माफी मांगे – दिग्विजय चौटाला

उन्होंने कहा कि चौधरी ओमप्रकाश चौटाला को लेकर सुभाष बराला की टिप्पणी को लेकर इनेलो चुप क्यों है?

5 times Chief Minister, Chaudhary Om Prakash Chautala, who insulted, Subhash Barala apologizes, JJP, Digvijay Chautala, naya haryana, नया हरियाणा

19 मार्च 2019



नया हरियाणा

जननायक जनता पार्टी के युवा नेता दिग्विजय चौटाला ने भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला के उस बयान की कड़ी आलोचना की है जिसमें बराला ने कहा था कि उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला के गठबंधन के प्रस्ताव वाली चिट्ठी फाड़कर कूड़ेदान में फेंक दी है। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि भले ही वे राजनीतिक रूप से किसी भी तरह इनेलो या चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के साथ नहीं हैं लेकिन सुभाष बराला को यह ध्यान रखना चाहिए कि वे 5 बार मुख्यमंत्री रहे और 84-वर्षीय बुजुर्ग चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के बारे में ओछी बात कर रहे हैं। दिग्विजय ने कहा कि इस भद्दी टिप्पणी के लिए सुभाष बराला और भारतीय जनता पार्टी को तुरंत माफी मांगनी चाहिए।

दिग्विजय चौटाला ने हैरानी जताई कि सुभाष बराला की टिप्पणी के दो दिन बाद तक भी इनेलो के किसी नेता में उनकी आलोचना करने तक की हिम्मत नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि इनेलो पूरी तरह भाजपा के सामने नतमस्तक है और ऐसा लगता है इनेलो नेता मनोहर लाल खट्टर को ही दोबारा मुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि भाजपा नेताओं का घमंड अपने चरम पर है और इनेलो अपना अस्तित्व बचाने की लड़ाई लड़ रही है, लेकिन इस जद्दोजहद में किसी बुजुर्ग और प्रदेश के वरिष्ठ राजनेता को घसीटना और अपमानित करना अशोभनीय है। उन्होंने इनेलो नेताओं से पूछा कि चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के सम्मान की उन्हें परवाह है या नहीं ? उन्होंने कहा कि सुभाष बराला का कद इतना कतई नहीं है कि वे चौटाला साहब के बारे में ऐसी टिप्पणी करे।

दिग्विजय चौटाला ने कहा कि सत्ता के लालच में भाजपा की बातें सुनते जाना और आलोचना ना करना इनेलो की मजबूरी होगी लेकिन चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के पौत्र होने के नाते वे इसे बर्दाश्त नहीं कर सकते। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि सुभाष बराला ने अपने बयान पर माफी नहीं मांगी तो जनता उन्हें उनकी हैसियत दिखा देगी।


बाकी समाचार