Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

गुरूवार, 22 अगस्त 2019

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

जानिए किस जिले से कितने और कौन से बदमाश हुए हैं फरार, लोकसभा में है खतरा

लोकसभा चुनाव की घोषणा होने क तुरंत बाद इस लिस्ट केटारगेट को पूरा करना होगा। सभी 7 टीमें विभिन्न जिलों में वहां की लोकल पुलिस के साथ मिलकर जॉइंट ऑपरेशन भी चलाएंगी।

How many more are from the district, the miscreants are absconding, naya haryana, नया हरियाणा

4 मार्च 2019



नया हरियाणा

लोकसभा चुनाव को शांतिपूर्वक कराने को लेकर पुलिस ने प्रदेश क बेल जंपर अपराधियों की लिस्ट तैयार कर ली है। प्रदेश क करीब 22 हजार बेल जंपर अपराधियों को इस हिटलिस्ट में टारगेट पर रखा गया है। पुलिस ने जिला स्तर पर सक्रिय रहने वाले बदमाशों को भी हिट लिस्ट में रखा है। एसटीएफ डीआईजी बी सतीश बालन क नेतृत्व में 7 यूनिट की एसटीएफ को ऑपरेशन सलाखें क नाम से संयुक्त तलाशी अभियान (जॉइंट कांबिंग ऑपरेशन) केनिर्देश जारी किए गए हैं। इनमें हिसार, सिरसा, बहादुरगढ़ और रोहतक, सोनीपत, गुड़गांव और करनाल की एसटीएफ की टीमें शामिल हैं। हर टीम को हिट लिस्ट में से खास टारगेट को पहले पकड़ने केलिए ऑपरेशन का ब्लूप्रिंट तैयार कर एसटीएफ अधिकारियों की ओर से दे दिया गया है। इसके लिए बाकायदा डडलाइन तय कर  दी गई है। लोकसभा चुनाव की घोषणा होने क तुरंत बाद इस लिस्ट केटारगेट को पूरा करना होगा। सभी 7 टीमें विभिन्न जिलों में वहां की लोकल पुलिस के साथ मिलकर जॉइंट ऑपरेशन भी चलाएंगी।

ज्यादातर अपराधियों को हो चुकी उम्रकैद की सजा

हत्या के मामले में लगभग सभी अपराधियों को उम्रकैद की सजा हो चुकी है। वह जेल से बेल पर बाहर निकले थे, लेकिन बाद में वापस जेल नहीं लौटे। वहीं कुछ बदमाशों का नाम पिछले कुछ समय में हुई बड़ी वारदातों में भी आया है। प्रदेश पुलिस अब इन सभी बदमाशों को हिटलिस्ट में रखते हुए एसटीएफ की स्पेशल टीम बनाई है, जो इन हार्डकोर क्रिमिनल को पकड़ेगी।

ये बदमाश हैं पुलिस की हिटलिस्ट में :

बेल जंप कर चुक हा े र्डकोर बदमाशों को लेकर पुलिस की लिस्ट में मोरखेड़ी का राजेंद्र, गांधरा का राजसिंह, रेवाड़ी क पाली गांव का  भंवर सिंह, झज्जर के रोहद का बलराज, बहादुरगढ़ का नवीन उर्फ टीटू, झज्जर क बेरी का महीपाल, यूपी के गौतम बुद्धनगर का मोहिंद्र, फरीदाबाद क रामपुर खोर का शयोदान सिंह, बहु-अकबरपुर का राजबीर उर्फ रघुबीर, बहादुरगढ़ का नफेसिंह, पुराना आर्यनगर का जरनैल सिंह, बखेता का मंगतराम उर्फ काला, सोनीपत क रूखी का लहना सिंह, खिड़वाली का सुनील, कैलाश कॉलोनी का भालू उर्फ भगता, सांपला के रूड़की का धर्मेंद्र उर्फ शास्त्री, किलोई का मनीष, मकड़ौली कलां का सुरेंद्र, महम केभराण का बलकार उर्फ काकू, बलियाणा का अशोक उर्फ डोगा, इंदिरा कॉलोनी का राजेश, चुलियाणा का संदीप उर्फ संड, इस्माइला 9 बी का जयबीर उर्फ मोनू शामिल है।

ये हैं आंकड़े

जिला बेल जंपर अपराधियों की संख्या-

सोनीपत 82

झज्जर 588

अम्बाला 57

कुरुक्षेत्र 1106

फरीदाबाद 5518

पानीपत 1531

यमुनानगर 657

करनाल 1268

नूंह 1576

कैथल 320

जींद 227

हिसार 1760

हांसी 443

दादरी 166

जेल जंप कर फरार चल रहे बदमाशों में से कई बदमाश इस समय भी अपराध जगत में सक्रिय है। वह गिरोह बनाकर कई वारदातें कर रहे हैं। इनमें कुख्यात अशोक उर्फ डोगा रोहतक समेत प्रदेश के कई जिलों में अपने साथियों क साथ में मिलकर वारदातों को अंजाम दे चुका है। इसक अलावा कई अन्य बदमाशों क नाम  भी कई वारदातों में सामने आए हैं।

बी सतीश बालन, डीआईजी, हरियाणा एसटीएफ के अनुसार- प्रदेश भर क बेल जंपर बदमाशों को पकड़ने केलिए एसटीएफ की टीमें काम कर रही हैं। जल्द ही सभी अपराधी सलाखों क पीछे होंगे।  जिला स्तर पर सक्रिय रहे बदमाशों को भी एसटीएफ ने अपनी हिट लिस्ट में रखा है। सभी गैंग का प्रदेश से जल्द ही सफाया कर दिया जाएगा।


बाकी समाचार