Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

रविवार, 21 अप्रैल 2019

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

सरकार द्वारा कुटीर उद्योगों को किसी प्रकार की सुविधा न देने से हरियाणा में लगभग 80% छोटे उद्योग हुए बंद: बजरंग गर्ग

हरियाणा सरकार लगातार घोषणाएं कर रही थी कि सरकार प्रदेश में व्यापार व उद्योग को बढ़ावा देने के लिए ज्यादा-से-ज्यादा सुविधाएं देगी.

Manohar Government, with no facility to cottage industries, about 80% small industries in Haryana are closed, Bajrang Garg, naya haryana, नया हरियाणा

27 फ़रवरी 2019



नया हरियाणा

अखिल भारतीय व्यापार मंडल के राष्ट्रीय महासचिव व हरियाणा प्रदेश व्यापार मंडल के प्रांतीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने हरियाणा सरकार के अंतरिम बजट को निराशाजनक बताया है. गर्ग का कहना है कि अफसोस की बात है कि देश व प्रदेश सरकार को व्यापारी वर्ग करोड़ों-अरबों रुपए का टैक्स देता है. उसी व्यापारी वर्ग को बजट में किसी प्रकार की कोई रियायत न देना व्यापारियों के साथ किया गया धोखा है.
हरियाणा सरकार लगातार घोषणाएं कर रही थी कि सरकार प्रदेश में व्यापार व उद्योग को बढ़ावा देने के लिए ज्यादा-से-ज्यादा सुविधाएं देगी. मगर सरकार की गलत नीतियों से लगातार व्यापार व उद्योग पिछड़ता जा रहा है. इसका मुख्य कारण टैक्स फ्री वस्तुओं पर जीएसटी लगाना व जिन वस्तुओं पर 5 व 12.5% वेट कर था. उन पर टैक्स बढ़ाकर 18 से 28% जीएसटी लगाकर सरकार ने देश के व्यापारी, किसान, कर्मचारी, मजदूर व आम जनता की जेबों में डाका डाला है. उन्होंने कहा कि पहले गांव में छोटे-छोटे उद्योग हुआ करते थे. जिसमें कूलर-पंखे, पलंग, निवार, साबुन, तेल बिक्री का सामान, दरी-चादर आदि बनता था. मगर सरकार द्वारा छोटे कुटीर उद्योगों को किसी प्रकार की सुविधा न देने से आज हरियाणा में लगभग 80 से 85% छोटे उद्योग गांव में बंद हो चुके हैं. जिसके कारण लाखों लोग बेरोजगार घूम रहे हैं.


बाकी समाचार