Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

गुरूवार, 20 जून 2019

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

बजट में केवल आंकड़े दिखाए हैं हकीकत अलग है, प्रदेश में कर्जा बढ़ा है- अभय चौटाला

इनेलो नेता अभय चौटाला की प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि  1मार्च को इनेलो की बड़ी और ऐतिहासिक रैली होगी.

In the budget only, figures are shown, reality is different, loan has increased in the state, Abhay Chautala, naya haryana, नया हरियाणा

25 फ़रवरी 2019



नया हरियाणा

अभय चौटाला का सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि  सरकार परकेपेटा इमकम से गुरुग्राम और फरीदाबाद को अलग कर दिया जाए तो पर केपेटा इनकम 40 हजार से नीचे है. सरकार परकेपेटा इनकम को लेकर दावे करती है ये गुमराह करने वाले है. सदन में सक्षम योजना पर गीता भुक्कल ने सवाल पूछा. सरकार के जवाब पर अभय ने कहा बेरोजगार युवाओं से भैंसों की गिनती करवा रही है. किसान को सरकार कोई राहत नहीं दे रही है. 1500 करोड़ किसान ,मजूदर और श्रमिको के लिए आंवटित करने पर कैप्टन ने कहा ये लोगों को गुमराह किया जा रहा. प्रदेश की सरकार कर्ज मुक्त करने की बजाय कर्जे में डुबो रही है प्रदेश में एक बच्चा पैदा होता है उसके सिर पर एक लाख कर्जा है.

इनेलो नेता अभय चौटाला की प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि  1मार्च को इनेलो की बड़ी और ऐतिहासिक रैली होगी. रैली को लेकर लोगों में काफी उत्साह और जोश है. लोगों ने जब इनेलो को कमजोर करने और तोड़ने की कोशिश की खबरें पढ़ी है तो उनका जोश और उत्साह बढ़ा और पार्टी से जुड़े रैली की तैयारी में जुटे हैं. रैली में चौटाला साहब दो बड़ी घोषणाएं करेंगे. नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला ने बजट पर सरकार पर निशाना साधा. वित्त मंत्री ने बजट में कौटिल्य का एक शेयर पढ़ा ये बीजेपी इस तरह के स्लोगन ही देती है. अभय ने कहा बजट में केवल आंकड़े दिखाए है हकीकत अलग है. प्रदेश में कर्जा बढ़ा है यानि सरकार राजस्व नही जुटा पाई प्रदेश में उद्योग नही आया. सरकार ने 1 लाख 9 हजार करोड़ कर्जा पांच साल में लिया है. कृषि को सरकार फॉक्स करने की बात करती है लेकिन इन बार कृषि से बजट का प्रावधान कम हुआ है. कॄषि में पूंजीगत खर्च 48 करोड़ रखा है जबकि पिछले साल 70 करोड़ था. बिजली के लिए भी बजट को पिछले साल के मुकाबले कम किया है. परिवहन विभाग में भी बजट घटाकर 4.12 फीसदी किया गया. अभय ने कहा शिक्षा के क्षेत्र में बजट 12.96 बजट पिछले साल था जो इस बार 11.61 फीसदी किया है यानि इसमें भी कटौती हुई है.


बाकी समाचार