Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

शुक्रवार, 26 अप्रैल 2019

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

अभय चौटाला से छीन सकता है नेता प्रतिपक्ष का पद!

कांग्रेस और इनेलो विधायकों की संख्या 17-17 हो गई है।

Abhay Chautala, Leader of the Opposition, naya haryana, नया हरियाणा

21 फ़रवरी 2019



नया हरियाणा

विधानसभा सदन में स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने पूछा क्या इनेलो टूट गई या नहीं। अनिल विज के द्वारा बार-बार सवाल उठाने पर नैना चौटाला ने कहा हां हमारी पार्टी टूट गई है। अनिल विज ने कहा नैना चौटाला के मानने के बाद इनको अलग सीट देनी चाहिए। पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा ने सदन में कहा नेता प्रतिपक्ष को अपनी पार्टी के सभी विधायकों का समर्थन हासिल नहीं है। उन्होंने विश्वास खो दिया है। इसलिए वोटिंग होनी चाहिए। स्पीकर कंवरपाल गुर्जर ने कहा आप लिखित में दो हम आवश्यक कार्रवाही करेंगे।

अगल भूपेंद्र हुड्डा लिखित में देते हैं तो नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी जाने की संभावना बढ़ जाएंगी। क्योंकि उनके तीन विधायक जेजेपी में शामिल हो गए हैं और जींद और पेहवा के दो विधायकों का देहांत हो गया है। ऐसे में अभय चौटाला की नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी डांवा डोल हो रही है। दरअसल जींद उपचुनाव को जीतने के साथ हरियाणा विधानसभा में बीजेपी विधायकों की संख्या अब 48 हो चुकी है और कांग्रेस और इनेलो विधायकों की संख्या 17-17 हो गई है। जिसमें से नैना चौटाला समेत तीन इनेलो विधायक पहले ही जेजेपी के साथ चले गए, और अब पिरथी नंबरदार भी दुष्यंत चौटाला के साथ खड़े हैं।

ऐसे में नेता प्रतिपक्ष का पद अब दिलचस्प हो गया है। अगर कांग्रेस नेता प्रतिपक्ष के पद को लेकर दावा कर दें तो बाजी कांग्रेस के हाथ लग सकती है। इस पर पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा का कहना है कि जब इनेलो के कई विधायक जननायक जनता पार्टी के साथ खड़े हैं तो विधानसभा अध्यक्ष को खुद संज्ञान लेना चाहिए। बता दें साल 2014 में हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 47, इनेलो को 19 और कांग्रेस को 15 सीटें मिली थी, लेकिन चुनाव के बाद हजकां पार्टी का कांग्रेस में विलय होने के बाद हजकां के कुलदीप बिश्नोई और रेणुका बिश्नोई कांग्रेस विधायक हो गए, जिससे कांग्रेस विधायकों की संख्या 17 हो गई। वही,जींद से इनेलो विधायक हरिचंद मिडढा औऱ पेहवा से इनेलो विधायक जसविंदर संधू के निधन के बाद पार्टी के विधायकों की संख्या कांग्रेस के बराबर 17 हो गई। ऐसे में अब नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी को लेकर मामला दिलचस्प हो गया है।


बाकी समाचार