Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

गुरूवार, 22 अक्टूबर 2020

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

चुनाव प्रचार सामग्री में मुद्रक व प्रकाशक का नाम होना जरूरी : इंद्रजीत सिंह

उन्होंने बताया कि अगर कोई व्यक्ति उपधारा-1 या उपधारा- 2 के उपबंधों में से किसी एक का उल्लंघन करेगा.  तो उसको 6 महीने की कैद या 2 हजार रुपये जुर्माना या दोनों हो सकते हैं.

In election campaign materials, the name of printer and publisher must be, Indrajit Singh, naya haryana, नया हरियाणा

12 फ़रवरी 2019



नया हरियाणा

चुनावी दौर में प्रचार के लिए उम्मीदवारों और राजनीतिक दलों द्वारा जो प्रचार सामग्री प्रिंटिंग प्रेसों में छपाई जाती है, उसके मुख्य पृष्ठ पर अब मुद्रक व प्रकाशक के नाम का उल्लेख होना आवश्यक है. यदि ऐसा नहीं हुआ तो उस प्रिंटिंग प्रेस के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने बताया कि अगर कोई व्यक्ति उपधारा-1 या उपधारा- 2 के उपबंधों में से किसी एक का उल्लंघन करेगा.  तो उसको 6 महीने की कैद या 2 हजार रुपये जुर्माना या दोनों हो सकते हैं. हरियाणा के संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ इंद्रजीत सिंह ने बताया कि प्रिंटिंग प्रेसों से चुनाव सामग्री छपवाने के संबंध में लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 127-ए का पालन करना अनिवार्य है. इस अधिनियम के तहत कोई भी व्यक्ति कोई ऐसी निर्वाचन पुस्तिका के पोस्टर जिसके मुख्य पृष्ठ पर उसके मुद्रक और प्रकाशक का नाम व पता नहीं है, वह मुद्रित व प्रकाशित नहीं करेगा और न ही कोई मुद्रित या प्रकाशित कराएगा. उन्होंने बताया जिसमें प्रकाशक की पहचान के बारे में अपने द्वारा हस्ताक्षरित तथा ऐसे दो व्यक्तियों द्वारा जो उसे स्वयं जानते हो, अनुप्रमाणित न हो को प्रकाशित नहीं करेगा.


बाकी समाचार