Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

सोमवार , 22 अप्रैल 2019

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

झज्जर में बने देश के सबसे बड़े राष्ट्रीय कैंसर संस्थान का उद्घाटन करेंगे प्रधानमंत्री मोदी

बाढ़सा के विश्व स्तरीय अत्याधुनिक राष्ट्रीय कैंसर संस्थान में प्रोटॉन थेरेपी से भी कैंसर के मरीजों का इलाज किया जाएगा।

Prime Minister Modi will inaugurate the country's largest national cancer institute, built in Jhajjar, naya haryana, नया हरियाणा

11 फ़रवरी 2019



नया हरियाणा

देश का सबसे बड़ा राष्ट्रीय कैंसर संस्थान झज्जर में बन कर तैयार हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल कुरुक्षेत्र से इसका विधिवत उद्घाटन करेंगे। एम्स परिसर मैं आयोजित  कार्यक्रम में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा और कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ मौजूद रहेंगे। कार्यक्रम की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। राष्ट्रीय कैंसर संस्थान बाढ़सा में 300 एकड़ भूमि में फैले राष्ट्रीय आयुर्विज्ञान संस्थान पार्ट -2 के एक हिस्से में बनाया गया है। करीब 60 एकड़ में फैले राष्ट्रीय कैंसर संस्थान में हर साल करीब 5 लाख मरीजों के उपचार की व्यवस्था की गई है। 

 

राष्ट्रीय कैंसर संस्थान का निर्माण 3 चरणों में हो रहा है। पहले चरण का काम लगभग पूरा हो चुका है। पहले चरण के काम के बाद 250 मरीजों के लिए बेड की व्यवस्था की गई है। फिलहाल हर रोज ओपीडी में करीब 80 से 100 मरीज इलाज के लिए आ रहे हैं। जिन्हें डॉक्टरी परामर्श के साथ रेडियोथैरेपी, कीमोथेरेपी और लैब की आधुनिक सुविधाएं दी जा रही है। राष्ट्रीय कैंसर संस्थान में डॉक्टरों की तैनाती भी कर दी गई है। टेक्निकल और नॉन टेक्निकल स्टाफ भी 24 घंटे ड्यूटी पर तैनात हो गया है। फिलहाल इसके उद्घाटन की तैयारियों के मद्देनजर कार्य को अंतिम रूप दिया जा रहा है। ताकि जल्द से जल्द काम पूरा हो और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों राष्ट्रीय कैंसर संस्थान को जनता को समर्पित करवाया जा सके। 

 

बाढ़सा के राष्ट्रीय कैंसर संस्थान में अब तक सबसे अत्याधुनिक तकनीकी मशीनें उपलब्ध करवाई गई है। लैब में हर रोज 60 हजार सैंपल की जांच की जा सकती है। 25 मॉड्यूलर ऑपरेशन थिएटर बनाए गए हैं। आधुनिक बेड की सुविधा भी दी गई है राष्ट्रीय कैंसर संस्थान का दूसरा चरण दिसंबर 2019 तक पूरा किया जाना है। जिसके पूरा होने के बाद ढाई सौ बेड की संख्या बढ़कर 500 बेड हो जाएगी और उसके बाद अंतिम चरण का काम दिसंबर 2020 तक पूरा किया जाएगा। जिसके बाद राष्ट्रीय कैंसर संस्थान में 710 मरीजों के लिए बेड उपलब्ध हो जाएंगे। यह संस्थान प्रदेश के कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ के ग्रह हल्के बादली के गांव में बनाया गया है। 

बाढ़सा के विश्व स्तरीय अत्याधुनिक राष्ट्रीय कैंसर संस्थान में प्रोटॉन थेरेपी से भी कैंसर के मरीजों का इलाज किया जाएगा। इसके लिए टेंडर प्रक्रिया पूरी की जा रही है ताकि आने वाले 2 साल के अंदर अंदर यहां पर प्रोटोन थेरेपी की मशीन लग कर मरीजों को सुविधा मिलनी शुरू हो जाएगा। राष्ट्रीय कैंसर संस्थान में बोन मैरो ट्रांसप्लांट भी किया जाएगा। इसके अलावा लगभग 100 तरह के कैंसर का इलाज यहां पर किया जाना है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल इसका लोकार्पण करेंगे जिसके बाद यह आम जनता के लिए समर्पित हो जाएगा।


बाकी समाचार