Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

गुरूवार, 3 दिसंबर 2020

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

रोहतक में दीपेंद्र हुड्डा और हिसार में दुष्यंत चौटाला के खिलाफ भाजपा ने बनाई मजबूत रणनीति

हरियाणा में लोकसभा की 10 में से 4 सीटों के लिए भाजपा मजबूत चेहरों की तलाश में है.

Dipendra Hooda in Rohtak, Dushyant Chautala in Hisar, strong strategy created by BJP, naya haryana, नया हरियाणा

11 फ़रवरी 2019



नया हरियाणा

हरियाणा में लोकसभा की 10 में से 4 सीटों के लिए भाजपा मजबूत चेहरों की तलाश में है. पार्टी के अंदर और बाहर दोनों जगह मैं ऐसे उम्मीदवार तलाशे जा रहे हैं, जो चुनाव जीतने के लिए सक्षम हो. सबसे अधिक जोर पार्टी को रोहतक और हिसार लोकसभा सीट के लिए लगाना पड़ रहा है. इसी तरह करनाल और कुरुक्षेत्र में भी पार्टी को ऐसे चेहरों की जरूरत है जो यह सीटें फिर से भाजपा की झोली में डाल सके. हरियाणा सरकार और प्रदेश भाजपा ही नहीं, केंद्रीय नेतृत्व भी अपने स्तर पर प्रदेश की सभी 10 सीटों को लेकर सर्वे करवा रहा है. वर्तमान में पार्टी के पास 10 में से 7 सीटें हैं. मिशन 2019 को सिरे चढ़ाने के लिए भाजपा सभी 10 सीटों पर जीत का लक्ष्य लेकर चल रही है.
रोहतक में दीपेंद्र हुड्डा और हिसार में दुष्यंत चौटाला के खिलाफ भाजपा मजबूत चेहरा ढूंढ रही है. हरियाणा की राजनीति में तो जाट और गैर जाट का मुद्दा गरमाया है. लेकिन हिसार संसदीय क्षेत्र पर काफी पहले इसी मुद्दे पर चुनाव होता रहा है. सोनीपत से मौजूदा सांसद रमेश कौशिक पर भी दांव लगाया जा सकता है और उनकी जगह नया चेहरा भी सामने आ सकता है. वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु भी सोनीपत से चुनाव लड़ना चाहते हैं, तो केंद्रीय मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह भी अपने आईएएस बेटे बृजेंद्र सिंह के लिए टिकट मांग रहे हैं.
यही नहीं, सीएम के मीडिया एडवाइजर राजीव जैन का नाम भी सोनीपत के लिए सियासी गलियारों में है. हरियाणा मार्केटिंग बोर्ड की चेयरपर्सन व पूर्व मंत्री कृष्णा गहलोत भी टिकट की दावेदारी में है.वही कुश्ती खिलाड़ी योगेश्वर दत्त के नाम को भी लेकर पार्टी विचार कर रही है. रोहतक में एक बार फिर मंत्री ओपी धनखड़ का नाम सामने आया है.
इसी तरह गुरुग्राम से भाजपा एक बार फिर केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह पर दांव लगाने का मन बना चुकी है. सूत्रों का कहना है कि फरीदाबाद सीट पर भी भाजपा सर्वे करवा रही है. यहां से सांसद एवं केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर पर दोबारा दांव लगाया जा सकता है. सिरसा सीट भाजपा 2014 में नहीं जीत सकी थी. इस बार यहां से अनुसूचित जाति विकास आयोग की चेयरपर्सन सुनीता दुग्गल का नाम चर्चा में है. तो वहीं पंजाबी गायक हंसराज हंस का नाम भी सिरसा से सामने आ रहा है. इनेलो के विभाजन के कारण दुष्यंत चौटाला की हार निश्चित लग रही है और रोहतक दंगों के कारण दीपेंद्र हुड्डा की हार निश्चित होती जा रही है. दूसरी तरफ गैर जाट वाटों के ध्रुवीकरण के लिए यशपाल मलिक लगातार उलटे बयान दे रहा है. जिसका सीधा फायदा बीजेपी को मिलता हुआ दिख रहा है. जिस तरह जींद उपचुनाव में हवा सिंह सांगवान ने बयान देकर ध्रुवीकरण को बल प्रदान किया, उसी तरह यशपाल मलिक इस काम को अंजाम दे रहे हैं.


बाकी समाचार