Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

शनिवार, 5 दिसंबर 2020

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

चाचा भतीजे की लड़ाई में फायदा कमल दल को

रणदीप सुरजेवाला को कम आंक रहे थे राजनीति के जानकार.

Uncle Abhay Singh, nephew Dushyant Chautala, Digvijaya Chautala, Randeep Surjewala in collision, Advantage to Kamal Dal, naya haryana, नया हरियाणा

28 जनवरी 2019



नया हरियाणा

बांगर की धरती जींद पर एक बार फिर मुख्यमंत्री मनोहर लाल का जादू चलेगा या फिर चौटाला खानदान की चौथी पीढ़ी को जीत का आशीर्वाद मिलेगा या फिर राहुलगांधी के विश्वसनीय के सिपहसलार रणदीप सुरजेवाला का करिश्मा चलेगा। इन्हीं सभी अटकलों के बीच जींद में होने वाले उपचुनाव में दिग्गजों की किस्मत ई.वी.एम में लॉक हो जाएगी। पांच नगर निगम चुनावों में भारी भरकम जीत के बाद भाजपा के विजय रथ को आगे ले जाने में सारथी की भूमिका निभा रहे मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने प्रदेश भर के कार्यकर्ताओं से घर बैठ कर जींद में बैठे अपने रिश्तेदारों से फोन पर संपर्क करने को कहा है। जींद में जिस तरह से भाजपा ने अपने कैडर के वर्करों को झोंक दिया है उससे पार्टी की जीत के आसार अधिक हैं। यहां पर मंत्री और मुख्यमंत्री के साथ बड़े पदाधिकारी आम वर्कर्स की तरह जीत के लिए जुटे। कांग्रेस में नेता अधिक कार्यकत्र्ता कम दिखाई दिए।

कांग्रेस में कुछ दिग्गज सुरजेवाला के साथ तंवर को कमजोर करने के लिए अधिक चिंतित दिखाई दिए। इसके अलावा चौटाला परविार के चौथी पीढ़ी के विरासतदार दिग्विजय चौटाला को हराने में उनके खास चाचा और उनका दल एकजुट होता दिखा। दिग्विजय चौटाला के दादा और दादी ने जिस तरह से उनको हराने की अपील कर डाली उसने उनका खासा नुक्सान किया। इसके बाद भी मुकाबला त्रिकोणीय है। यदि जींद में 80 प्रतिशत से अधिक मतदान होता है तो सुरजेवाला और दिग्विजय के जीत के आसार बढ़ जाएंगे। यदि प्रतिशत 60 फीसदी से कम रहा तो भाजपा के प्रत्याशी डॉ. कृष्ण मिड्ढा की जीत सुनिश्चित हो जाएगी। भाजपा की जीत का सबसे बड़ा कारण यहां पर गुटबाजी का नहीं होना होगा।

पार्टी का अनुशासन सर्वोपरि रहता है। जींद में भी जाट और गैर जाट के बीच मुकाबला होने के कारण जातीय आधार पर मिड्ढा की स्थिति मजबूत होती दिख रही है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल आज करनाल में शाम को वर्कर्स की बैठक करने के साथ ही जींद में जीत की रणनीति तय करते रहे। जींद का उपचुनाव कई तरह के संकेत दे कर जाएगा। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने डी वर्ग की नौकरियों को भी जम कर कैश किया। मुख्यमंत्री मनोहर लाल की ईमानदार छवि भाजपा को आगे ले जा रही है। इसकी तस्वीर जींद के उपचुनाव में दिखाई दी।


बाकी समाचार