Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

गुरूवार, 21 फ़रवरी 2019

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

किसानों के लिए कमाई का बढ़िया साधन बना स्नैक कुकुम्बर

पंजाब में जो इस खीरे की खेती कर रहे हैं उन्हें कुछ निजी कंपनियां बाजार में उपलब्ध करवा रही हैं.

The best way to earn for the farmers, Snack Kukumbar, naya haryana, नया हरियाणा

23 जनवरी 2019

नया हरियाणा

अब खीरे की खेती भी किसानों के लिए बढ़िया कमाई का साधन बन रही है. लेकिन यह खेती सामान्य खीरे की न होकर स्नैक कुकुम्बर वैरायटी की है. बहुत से किसान इस किस्म के खीरे की फसल से बढ़िया मुनाफा कमा रहे हैं. हरियाणा-पंजाब में कई किसानों ने खेती को शुरू किया है. विशेषज्ञों का दावा है कि यदि इसे वैज्ञानिक तरीकों से किया जाए तो किसान सामान्य खीरे की फसल से अपेक्षाकृत कई गुना कमाई कर सकते हैं. विशेषज्ञ डॉ. सतीश शर्मा ने बताया कि किसानों के लिए यह फायदे की खेती है. जिसमें मल्टीस्टार और किंग्सटन की खेती तो पहले से ही करते आ रहे हैं लेकिन अब स्नैक कुकुम्बर की शाइनफिट किस्म बहुत ही बढ़िया है. इसे खीरे की क्रेंची यानी कुरकुरी किस्म भी कहा जाता है.
शर्मा ने बताया कि इस खीरे की खेती पॉलीहाउस में की जाती है. साल में दो बार फरवरी-मार्च और अगस्त-सितंबर में इसकी फसल ली जा सकती है. एक एकड़ में 10000 पौधे लगते हैं जिसमें करीब 50 से 60 किलो उत्पादन होता है. इसका एक पौधा लगभग 5 से 6 किलो का उत्पादन करता है. जिसकी लंबाई लगभग 6 सेंटीमीटर तक होती है और इसका भार 40 से 50 ग्राम तक होता है. इसकी खासियत यह है कि यह बेहद स्वादिष्ट और पौष्टिक भी है.
पंजाब में जो इस खीरे की खेती कर रहे हैं उन्हें कुछ निजी कंपनियां बाजार में उपलब्ध करवा रही हैं. जिसके कारण किसान खीरे की इस किस्म की शानदार पैकिंग सप्लाई कर रहे हैं. खेती करने वाले किसान इंद्रजीत सिंह बताते हैं कि उन्होंने एक पॉलीहाउस सिर्फ इसी खीरे की खेती के लिए तैयार कर रखा है. खेती से उन्हें अच्छी-खासी आमदनी हो जाती है. किसान कई मॉल्स के साथ समझौता कर लेते हैं. जबकि खीरे की पैकिंग को बड़ी सब्जी मंडियों में भी अच्छा दाम मिल जाता है.


बाकी समाचार