Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

शुक्रवार, 30 अक्टूबर 2020

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

जींद उपचुनाव में पिछड़ी बीजेपी ने फिर बदली रणनीति!

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर खुद मान चुके कि ये चुनाव लोकसभा और विधानसभा चुनाव का सेमीफाइनल है।

Jind bye-elections, backward BJP, then changed strategy, naya haryana, नया हरियाणा

23 जनवरी 2019



नया हरियाणा

जींद का चुनावी रण जीतने के लिए बीजेपी सरकार जी-जान से जुट गई है। ये उपचुनाव बीजेपी के लिए प्रतिष्‍ठा का प्रश्‍न बनती दिख रही है। यही कारण है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी के राष्‍ट्रीय प्रधान अमित शाह की भी इस पर नजरें हैं। इसे देखते हैं हरियाणा बीजेपी के आला नेताओं ने जींद में डेरा डाल दिया है। कई बड़े नेता यहां आने वाले हैं। करीब तीन दर्जन स्थानों पर चाय पी चुके मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर एक बार फिर जींद में डेरा डालने को तैयार हैैं। बीजेपी प्रभारी डाॅ. अनिल जैन बूथ मैनेजमेंट में जुट गए हैं। बीजेपी के लोकसभा चुनाव प्रभारी कलराज मिश्र 24 को जींद पहुंचेंगे। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर 25 जनवरी को जींद शहर में बड़ी रैली करेंगे। बीजेपी के लिए जींद का रण बेहद मायने रखता है। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जींद सीट के चुनाव नतीजों पर निगाह टिकी है।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर खुद मान चुके कि ये चुनाव लोकसभा और विधानसभा चुनाव का सेमीफाइनल है। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डा. अशोक तंवर ने मुख्यमंत्री के बयान को आधार बनाकर कहा था कि बीजेपी एक सीट की हार जीत के कुछ खास मायने नहीं मानती, लेकिन मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने तुरंत स्थिति स्पष्ट कर उन्हें निरुत्तर कर दिया है। मुख्यमंत्री खट्टर के अनुसार जींद उपचुनाव का प्रभाव इसी वर्ष होने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनावों पर अवश्य पड़ेगा। आधी-अधूरी बात किसी भी राजनीतिक नेता को शोभा नहीं देती। हम चाहते हैं कि भारतीय जनता पार्टी लोकसभा और विधानसभा चुनाव जीते। इसके लिए जींद उपचुनाव को जीतना आवश्यक है। कर्मचारी चयन आयोग द्वारा चतुर्थ श्रेणी के 18 हजार से अधिक पदों के रिजल्ट के बाद चुनावी हवा बदलने का अनुमान भाजपा नेता लगा रहे हैं। अकेले जींद जिले को 1600 से अधिक नौकरियां मिली हैं, जिनमें हर बिरादरी का प्रतिनिधित्व है। जाट लैंड में सरकार इन नौकरियों को भुनाने का कोई मौका हाथ से नहीं जाने देगी। सर्वजातीय खाप पंचायत एवं कंडेला खाप के प्रधान टेक राम कंडेला को मनाने के बाद बीजेपी का फोकस ग्रामीण व शहरी मतदाताओं पर बढ़ गया है। खट्टर कैबिनेट के अधिकतर मंत्री जींद में डेरा डाल चुके हैैं। उनका आना-जाना लगा हुआ है। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के दूत बनकर प्रदेश प्रभारी डाॅ. अनिल जैन भी जींद में संगठनात्मक गतिविधियों की रिपोर्ट लेंगे। सीएम के मीडिया एडवाइजर राजीव जैन के मुताबिक 25 जनवरी को शहर में रैली होगी, जिसमें मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर अपनी सरकार के अब तक के काम तथा जींद के विकास का एजेंडा पेश करेंगे।


बाकी समाचार