Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

रविवार, 21 अप्रैल 2019

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

जानिए राम रहीम को पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्या मामले में हुई कितनी सजा

पत्रकार रामचंद्र छत्रपति मर्डर केस करीब 16 साल पुराना मामला है. इस केस में ही आज डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को सजा सुनाई है.

Ram Rahim, journalist Ramchandra Chhatrapati murder, naya haryana, नया हरियाणा

17 जनवरी 2019



नया हरियाणा

स्पेशल सीबीआई जज जगदीप सिंह  सीबीआई कोर्ट में आज फैसला सुनाया गया है। पंचकूला डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी पंकज राज गर्ग भी सीबीआई कोर्ट में मौजूद रहे। उन्होंने बताया वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के लिए सेटअप लगाया गया था। पंचकूला सीबीआई कोर्ट , रोहतक की सुनारिया जेल व अम्बाला जेल में लगाया जाएगा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग का सेटअप। गुरमीत राम रहीम सहित सभी चारों आरोपियों को सुनाई गई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ज़रिये सज़ा। डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी पंकज राज गर्ग ने बताया धारा 302 और धारा 120 बी के तहत सभी आरोपियों दोषी करार दिया गया था। जिसके लिए न्यूनतम सज़ा उम्रकैद वहीं अधिकतम सज़ा सज़ा ए मौत का प्रावधान है।

कितनी हुई सजा

सीबीआई की तरफ से आरोपियों को फांसी की मांग की गई है। सीबीआई कोर्ट ने उम्र कैद की सजा सुनाते सजा सुनाई है।

 

क्या था मामला

CBI की स्पेशल कोर्ट के न्यायाधीश जगदीप सिंह ने हत्या मामले में 11 जनवरी को गुरमीत और तीन अन्य - कुलदीप सिंह, निर्मल सिंह ओर कृष्ण लाल को दोषी ठहराया था. चारों को आईपीसी की धारा 302 (हत्या) और 120 बी (आपराधिक साजिश) के तहत दोषी ठहराया जा चुका है. निर्मल सिंह और कृष्ण लाल को आर्म्स एक्ट के तहत भी दोषी ठहराया जा चुका है. फिलहाल गुरमीत राम रहीम अपनी दो महिला अनुयायियों से दुष्कर्म करने के जुर्म में रोहतक की सुनारिया जेल में 20 साल कैद की सजा काट रहा है.

पत्रकार रामचंद्र छत्रपति मर्डर केस करीब 16 साल पुराना मामला है. इस केस में ही आज डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को सजा सुनाई है.

-साल 2002 में पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी
-छत्रपति अपने समाचार पत्र में डेरा से जुड़ी खबरों को प्रकाशित करते थे
-पत्रकार छत्रपति के परिजनों ने मामला दर्ज करवाया था
-बाद में इस केस की जांच सीबीआई को सौंप दी गई
-सीबीआई ने साल 2007 में चार्जशीट दाखिल कर दी थी
-इसमें डेरा प्रमुख गुरमीत सिंह राम रहीम को हत्या की साजिश रचने का आरोपी माना था


बाकी समाचार