Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

मंगलवार, 17 जुलाई 2018

पहला पन्‍ना English लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

बदल गई है बैंकर्स की भूमिका और जिम्मेदारी: कैप्टन अभिमन्यु

वित्त मंत्री आज पंचकूला के सेक्टर-14 स्थित भारतीय स्टेट बैंक ज्ञानार्जन केन्द्र में नव प्रशिक्षित अधिकारियों और वरिष्ठ अधिकारीयों को सम्बोधित कर रहे थे। 

Role and responsibility of bankers,  Captain Abhimanyu, naya haryana, नया हरियाणा

11 जनवरी 2018

नया हरियाणा

 हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यू ने कहा कि  देश की आजादी के 68 वर्षों के बाद विगत तीन वर्षों के दौरान देेश की सकल घरेलू उत्पाद दर तथा अर्थ-व्यवस्था सुदृढ़ करने के लिए प्रधानमंत्री जन धन योजना तथा नोटबंदी आर्थिक सुधारों के दो महत्वपूर्ण एवं क्रांतिकारी निर्णयों के फलस्वरूप राष्ट्र के प्रति बैंकर्स की भूमिका एवं जिम्मेदारी में बदलाव आया है। भारतीय स्टेट बैंक जैसे राष्ट्रीय बैंकों से जुड़े आज की चौथी पीढ़ी के नव अधिकारियों को इस बात का गर्व होना चाहिए कि देेश, काल  व परिस्थिति उनके अनुकूल हुई है। वित्त मंत्री आज पंचकूला के सेक्टर-14 स्थित भारतीय स्टेट बैंक ज्ञानार्जन केन्द्र में नव प्रशिक्षित अधिकारियों और वरिष्ठ अधिकारीयों को सम्बोधित कर रहे थे। 
उन्होंने कहा कि बैंकों जैसे आर्थिक संस्थानों से जुडऩे से  देश का युवा कहीं न कहीं अलग हो गया था तथा सत्ता एवं समाज के बीच असंतुलन हो गया था वह फिर से बहाल हुआ है। तीन वर्षों पहले केवल तीन प्रतिशत जनसंख्या की पहुंच ही बैंको तक थी अर्थात 3.5 करोड़ बैंक खाते थे जो अब बढक़र 29 करोड़ से अधिक हो गए है और इनमें 80 प्रतिशत खाते सक्रिय है।
उन्होंने पासिंग आऊट अधिकारियों से आह्वïान  किया कि वे जाति, सम्प्रदाय व धर्म से उपर उठकर देश की अर्थ-व्यवस्था को सुदृढ़ करने में एक अच्छे बैंकर्स के रूप में अपनी भूमिका निभाए। उन्होंने  कहा कि नोटबंदी के बाद 90 प्रतिशत से अधिक करंसी बैंकों में वापिस आई है, जिसका पहले कुछ पता नहीं था कि ऐसे नकदी का लेन-देन कौन कर रहा है। चाहे यह कर दायरे में या आयकर दायरे में थी या नहीं थी इसका कुछ पता नही थी। इसी प्रकार हजारों फर्जी कम्पनियों पर नकेल कसी गई है। इससे आतंकवाद, नकसलवाद व हवाला कारोबार पर भी काफी हद तक अंकुश लगा है। अन्तर्राष्टï्रीय स्तर पर भारतीय रुपये की साख बढ़ी है।
उन्होंने दक्षिण अफ्रीका का उदाहरण देते हुए कहा कि स्थानीय जन जातीय युद्घ ग्रुप वहां पर मोबाइन बैंकिंक सुविधा में अवरोध पहुचाए जाने से वहां पर मोबाइल टॉवर से  लोगों को सुविधा दी गई क्योंकि मोबाइल टॉवर की आवश्यकता युद्घ ग्रुप स्वयं के लिए भी प्रयोग करता था। उन्होंने कहा कि देश में भारतीय स्टेट बैंक की पहचान की एक परम्परागत, ऐतिहासिक एवं  उत्कृष्टï बैंक के रूप में है तथा व्यक्तिगत रूप से सस्थान के साथ  जुडऩे वाले अधिकारियों के लिए यह गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि युवा पीढी को अपने पुर्वजों के इतिहास  का ज्ञान होना चाहिए। वित्त मंत्री ने भारतीय स्टेट बैंक के इतिहास के बारे में भी अधिकारियों से संवाद किया। वित्त मंत्री ने हावर्ड विश्वविद्यालय में केस स्टडी का उदाहरण भी अधिकारियों से सांझा किया है। उन्होंने नव अधिकारियों के उज्जवल भविष्य की कामना की और वे भविष्य में एक कम्पोजिट बैंकर्स के रूप में उभर कर सामने आए। देश की अर्थ-व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने में अपना योगदान दें। 


इससे पूर्व उत्तर क्षेत्र सम्भाग के मुख्य महाप्रबंधक अनील किशोर ने वित्त मंत्री को अवगत करवाया कि उत्तर क्षेत्र के हरियाणा सहित हिमाचल प्रदेश, पंजाब, जम्मू एवं कश्मीर तथा केन्द्र शासित प्रदेश चण्डीगढ़ में भारतीय स्टेट बैंक की 2200 शाखाएं है तथा पंचकूला, पटियाला व जम्मू में तीन ज्ञानार्जन केन्द्र संचालित है। हरियाणा में 505 शाखाएं तथा 900 एटीएम स्थापित किए गए  है उन्होंने इस बात की भी जानकारी दी कि भारतीय स्टेट बैंक अपने आर्थिक कारोबार के साथ-साथ  सामाजिक  उत्तदायित्व में भी योगदान देता है। चार गांवों नामत: पानीपत जिले के ददलाना, रोहतक जिले के बनियानी, जींद जिले के खरक तथा कुरुक्षेत्र जिले के पीपली गांव को डिजिटाईलेशन लेन-देन में पायलट प्रयोजेक्ट के रूप में बैंक द्वारा गोद लिया गया हैं तथा भविष्य में स्वच्छ भारत अभियान के साथ जुडऩे की योजना है। इस अवसर पर वित्त विभाग के संयुक्त सचिव श्री विवेक पदम सिंह के अतिरिक्त, भारतीय स्टेट बैंक के अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।


बाकी समाचार