Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

बुधवार, 16 जनवरी 2019

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला एक बार फिर उचाना से विधानसभा चुनाव लड़ेंगे : अभय चौटाला

2014 के चुनाव में भी बीरेंद्र सिंह की पत्नी प्रेमलता ने दुष्यंत चौटाला को शिकस्त दी थी।

Former Chief Minister Om Prakash Chautala, will contest the Assembly elections from Uchana, Abhay Chautala, Birender Singh, Premalata, Dushyant Chautalas first defeat in the 2014 elections, naya haryana, नया हरियाणा

7 जनवरी 2019

नया हरियाणा

हरियाणा विधानसभा में विपक्ष के नेता अभय सिंह चौटाला ने शनिवार को कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला एक बार फिर उचाना से विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। विधानसभा चुनाव से पहले ओमप्रकाश चौटाला के केस में अदालत का फैसला आ जाएगा। यहां पत्रकारों से बातचीत में अभय ने बांगर के नाम पर राजनीति कर रहे नेताओं का नाम लिए बिना कहा कि इन लोगों ने कभी बांगर का विकास नहीं किया। बांगर का विकास किया तो केवल ओमप्रकाश चौटाला ने किया। उन्होंने कहा कि 1993 में हुए नरवाना उप-चुनाव में ओमप्रकाश चौटाला विजयी रहे थे। फरवरी 2000 में फिर ओमप्रकाश विधायक बनकर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने थे। मुख्यमंत्री रहते उन्होंने नरवाना, उचाना समेत पूरे बांगर क्षेत्र का विकास किया। अब एक बार फिर इस साल होने वाले चुनाव में इनेलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला उचाना से चुनाव लड़ेंगे। इनेलो सुप्रीमो के चुनाव लडऩे पर अदालती रोक को लेकर सवाल के जवाब में अभय चौटाला ने कहा,‘‘विधानसभा चुनाव से पहले कोर्ट का फैसला आ जाएगा और वह उचाना से चुनाव लड़ेंगे।’’

उचाना से हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने भी 2014 में सांसद बनने के बाद चुनाव लड़ा था। जिसमें उन्हें अपने जीवन की पहली हार का मुंह देखना पड़ा था। उचाना की सीट को बीरेंद्र सिंह की पारंपरिक सीट माना जाता है। भले ही 2009 के चुनाव में ओमप्रकाश चौटाला ने यहां से बीरेंद्र सिंह को शिकस्त दी थी। पर उससे पहले और उसके बाद इस सीट पर बीरेंद्र सिंह का कब्जा बरकरार है। 2014 के चुनाव में भी बीरेंद्र सिंह की पत्नी प्रेमलता ने दुष्यंत चौटाला को शिकस्त दी थी।

<?= Former Chief Minister Om Prakash Chautala, will contest the Assembly elections from Uchana, Abhay Chautala, Birender Singh, Premalata, Dushyant Chautalas first defeat in the 2014 elections; ?>, naya haryana, नया हरियाणा

यदि उचाना से ओमप्रकाश चौटाला चुनाव लड़ेंगे तो दुष्यंत चौटाला को यहां से चुनाव लड़ने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। जिस तरह आदमपुर से जेपी ने पर्चा भरकर उन्हें आदमपुर तक सीमित कर दिया था। उसी तरह दुष्यंत चौटाला फिर उचाना तक सीमित होकर रह जाएंगे। सूत्रों के हवाले से खबर है कि यदि कानूनी तौर पर ओमप्रकाश चौटाला चुनाव नहीं लड़ सके तो उनकी धर्मपत्नी के चुनाव में उतारे जाने की संभावनाएं हैं। राजनीति के जानकारों का कहना तो यहां तक है कि हो सकता है इनेलो की तरफ से मुख्यमंत्री फेस के रूप में ओमप्रकाश चौटाला की धर्मपत्नी स्नेहलता का नाम आगे किया जा सकता है।


बाकी समाचार