Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

सोमवार , 25 मार्च 2019

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

जींद उपचुनाव में सुरेंद्र बरवाला पर टिकी हैं सभी की नजरें

जींद उपचुनाव में सुरेंद्र बरवाला को दोबारा बीजेपी द्वारा टिकट दिए जाने की ज्यादा संभावनाएं लग रही हैं.

All eyes are fixed on Surendra Barwala in Jind bye election, naya haryana, नया हरियाणा

3 जनवरी 2019

नया हरियाणा

2 अगस्त 1951 में जन्में सुरेंद्र सिंह बरवाला हरियाणा के प्रसिद्ध नेताओं में से एक हैं. वो 12 वीं और 13 वीं लोकसभा में हिसार निर्वाचन क्षेत्र से संसद सदस्य चुने गए थे। उनका जन्म हरियाणा के जींद जिले के गांव संगतपुरा में हुआ था। उन्होंने अपना बी.ए. दयाल सिंह कॉलेज, करनाल से उसके बाद कुरुक्षेत्र लॉ कॉलेज, कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय से एल.एल.बी की।

उन्होंने हरियाणा राजनीति के दिग्गज और बड़े बिजनेस टाइकून जिंदल स्टील इंडस्ट्रीज के मालिक ओम प्रकाश जिंदल और कांग्रेस के दिग्गज नेता जयप्रकाश हराया है। वे 1987 में बरवाला से विधानसभा के लिए भी चुने गए और उन्हें वन मंत्री और बाद में शिक्षा मंत्री बनाया गया।

2014 के विधानसभा चुनावों में उन्होंने इनेलो का साथ छोड़कर बीजेपी का दामन थाम लिया था। जींद के विधानसभा चुनाव में उन्होंने अच्छा प्रदर्शन करते हुए जींद के 2014 के चुनाव में दूसरा स्थान प्राप्त किया था. जींद से इनेलो के हरिचंद मिड्ढा ने चुनाव जीता था. नजदीकी मुकाबलें में ये करीब 2000 हजार वोटों से हारे थे।

जींद उपचुनाव में सुरेंद्र बरवाला को दोबारा बीजेपी द्वारा टिकट दिए जाने की ज्यादा संभावनाएं लग रही हैं.


बाकी समाचार