Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

मंगलवार, 29 सितंबर 2020

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

हुड्डा की मुश्किलें बढ़ी, मानेसर जमीन घोटाले में 42.19 करोड़ की सम्पत्तियाँ हुई जब्त

हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा इस मामले के मुख्य आरोपी हैं.

Bhupinder Singh Hooda's trouble increased; Manesar land scam, assets worth 42.19 crore seized, naya haryana, नया हरियाणा

29 दिसंबर 2018



नया हरियाणा

सरकार ने पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा और यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा के खिलाफ एफआईआर की जांच आगे बढ़ाने की मंजूरी दे दी है. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मानेसर जमीन घोटाले से जुड़े मामले में रियल एस्टेट कंपनी एबीडब्ल्यू इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड की 42.19 करोड़ की संपत्तियां जब्त की हैं. हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा इस मामले के मुख्य आरोपी हैं.
ईडी की टीम कंपनी से जुड़ी अन्य संपत्तियों को भी चिन्हित कर रही है. मामले में पहले सीबीआई ने केस दर्ज किया था. सीबीआई हुड्डा समय 24 लोगों के खिलाफ आरोपपत्र दायर कर चुकी है. जिसमें कई आईएएस अफसरों के नाम भी शामिल हैं. पुलिस ने राठीवास गांव के सुरेंद्र शर्मा की शिकायत पर शिकोहपुर गांव की एक जमीन की खरीद-फरोख्त में रॉबर्ट वाड्रा को डीएलएफ द्वारा लाभ पहुंचाने का आरोप लगाया था. आरोप है कि यह सब पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा के इशारे पर किया गया था.
सूत्रों के मुताबिक यह 3 साल की अवधि में हुए भ्रष्टाचार का मामला है. मामले में 688 एकड़ जमीन के अवैध कब्जे का आरोप है.  27 अगस्त, 2004 से 27 अगस्त, 2007 के बीच बिल्डरों ने हरियाणा सरकार के अज्ञात जनसेवकों से मिलीभगत कर मानेसर, नौरंगपुर, लखनौला के किसानों-भूस्वामियों को अधिग्रहण का भय दिखा 400 एकड़ जमीन औने-पौने दाम पर खरीदी थी.

Tags:

बाकी समाचार