Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

सोमवार , 20 मई 2019

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

हरियाणा पुलिस की सिपाही भर्ती परीक्षा में फर्जी परीक्षार्थी पकड़े जाने के मामले में बड़ा खुलासा

गिरफ्तार आरोपी विक्रम को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लेकर आगामी पूछताछ की जाएगी।

Haryana Polices Separate Recruitment Examination, Big Disclosure, naya haryana, नया हरियाणा

26 दिसंबर 2018



नया हरियाणा

रविवार को आयोजित हुई हरियाणा पुलिस भर्ती की सिपाही पद की परीक्षा में फर्जी परीक्षार्थी पकड़े जाने के मामले में फतेहाबाद पुलिस ने चरखी दादरी जिला के गांव हडोदी से असली परीक्षार्थी की गिरफ्तारी किया है। असली परीक्षार्थी की गिरफ्तारी के बाद मामले में बड़ा खुलासा यह हुआ है कि फर्जीवाड़े के जरिए सिपाही पद की परीक्षा पास करने के लिए पूरी साजिश हाडोदी गांव के पूर्व सरपंच मनोज कुमार ने रची थी। पुलिस गिरफ्त में आए असली परीक्षार्थी विक्रम ने पुलिस पूछताछ में खुलासा किया है कि विक्रम के परिवार की मदद से ही मनोज कुमार गांव का सरपंच बना था और विक्रम के परिवार का एहसान चुकाने के लिए सरपंच ने विक्रम की परीक्षा क्लियर करवाने के लिए न केवल फर्जी परीक्षार्थी का इंतजाम किया बल्कि पूरे फर्जीवाड़े के लिए रुपयों तक की सेटिंग भी खुद मनोज नहीं की। जांच अधिकारी जगदीश चंद्र ने बताया कि पूरे मामले का मास्टरमाइंड हड़ोदी गांव का पूर्व सरपंच मनोज कुमार है और विक्रम और उसके परिवार से जान पहचान होने के चलते मनोज कुमार ने पूरी साजिश रची। जांच अधिकारी ने बताया कि परीक्षा सेंटर में बायोमेट्रिक हाजिरी लगने के बाद ही कोई परीक्षार्थी अंदर जा सकता था लेकिन विक्रम परीक्षा सेंटर में नहीं गया। यह जांच का विषय है कि विक्रम की जगह फर्जी परीक्षार्थी सुनील परीक्षा सेंटर में बायोमेट्रिक हाजिरी क्लियर करके कैसे पहुंचा? फिलहाल गिरफ्तार आरोपी विक्रम को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लेकर आगामी पूछताछ की जाएगी। बता दें कि फतेहाबाद के गांव से गांव निवासी सुनील नाम का शख्स विक्रम की जगह परीक्षा देने के लिए क्रिसेंट पब्लिक स्कूल सेंटर पर पहुंचा था और यहां से परीक्षा देकर वह हिसार किसी अन्य की जगह एक और परीक्षा देने पहुंचा तो आरोपी सुनील और उसके कुछ अन्य साथी हिसार में परीक्षा में फर्जीवाड़ा करते हुए पकड़े गए, जिसके बाद फतेहाबाद में भी आरोपियों के खिलाफ एफआइआर दर्ज दर्ज की गई थी। फतेहाबाद पुलिस ने इस मामले में पहली गिरफ्तारी के रूप में आरोपी विक्रम को गिरफ्तार किया है जो कि फतेहाबाद सेंटर के लिए असली परीक्षार्थी था।


बाकी समाचार