Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

शुक्रवार, 22 मार्च 2019

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

किसान के बेटे धनखड़ ने कर दिखाया ऐतिहासिक काम : कृष्णपाल गुर्जर

उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार की किसान कल्याण को समर्पित नीतियों का देश में डंका बजा हुआ है.

Farmers son Om Prakash Dhankar, Krishnpal Gurjar, naya haryana, नया हरियाणा

24 दिसंबर 2018

नया हरियाणा

भारत सरकार में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्णपाल झज्जर में आयोजित 36वीं राज्य पशुधन प्रदर्शनी की सफलता का श्रेय हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण, पशुपालन एवं डेयरी मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ को देते हुए पहले भी कृषि मंत्री आए होंगे लेकिन राज्य में किसानों की भलाई के लिए भव्य आयोजन होते देख यह कहने में संकोच नहीं हो रहा कि पहली बार वास्तव में एक किसान के बेटे ने ऐतिहासिक कार्य कर दिखाया है। जिसकी चर्चा न केवल हरियाणा बल्कि आज पूरे देश में तारीफ हो रही है। 
श्री कृष्णपाल गुर्जर ने यह बात रविवार को झज्जर में आयोजित 36वीं राज्य पशुधन प्रदर्शनी 2018 के समापन एवं पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान राज्यभर से आए किसानों को संबोधित करते हुए कही। केंद्रीय मंत्री समापन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंचे थे। 
हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण, पशुपालन एवं डेयरी मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ की अध्यक्षता में तीन दिन चली राज्य पशुधन प्रदर्शनी के समापन कार्यक्रम में सहकारिता राज्य मंत्री मनीष ग्रोवर, भारतीय जनता पार्टी में किसान मोर्चा के संगठक ह्रदय नाथ सिंह, भारतीय कृषक समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष कृष्ण वीर चौधरी, कोसली के विधायक विक्रम यादव, पशुपालन एवं डेयरी विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव डा. सुनील कुमार गुलाटी, महानिदेशक हरदीप सिंह, हरियाणा पशुधन विकास बोर्ड के अध्यक्ष ऋषि प्रकाश, वाइस चेयरमैन मेहर चंद गहलोत, डेयरी प्रसंघ के चेयरमैन जीएल शर्मा, हरियाणा किसान आयोग के अध्यक्ष रमेश यादव, सदस्य आरएस बाल्याण, चेयरमैन रामअवतार वाल्मीकि, लाला लाजपत राय पशु विज्ञान विश्वविद्यालय के कुलपति डा. गुरदयाल सिंह सहित अनेक विशिष्टजन कार्यक्रम में पहुंचे। 
समापन एवं पुरस्कार वितरण समारोह में पशुपालकों के उत्साह से अभिभूत केंद्रीय मंत्री ने कहा कि ओमप्रकाश धनखड़ को जिस भी विभाग के मंत्री बने उसे जीवंत व सक्रिय बनाते हुए तेज गति से किसानों की भलाई के लिए नई योजनाएं लागू करने में उनका कोई सानी नहीं है। उन्होंने कहा कि हम गांव के लोग है और खेती-पशुधन से हमारा विशेष प्यार है। किसान की आमदनी में खेतीबाड़ी व पशुधन का विशेष योगदान रहता है। उन्होंने कहा कि हरियाणा में यूरिया-डीएपी-बीज की उपलब्धता कराने, खराबे का सबसे ज्यादा मुआवजा दिलाने, पालकों का उत्साह बढ़ाने के लिए पशुओं की प्रतियोगिता कराने की जिम्मेवारी धनखड़ ने बखूबी निभाई है जिसके लिए वे बधाई के पात्र है। 
शुगर मिलों की क्षमता बढ़ाने से किसानों को मिलेगा लाभ
हरियाणा के सहकारिता राज्य मंत्री मनीष ग्रोवर ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व, मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के मार्गदर्शन तथा कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ की पहल पर आरंभ योजनाओं से हरियाणा का किसान खुशहाल हुआ है। इस धनतेरस पर किसानों की जेब में एक हजार करोड़ रुपए की राशि पहुंची थी। उन्होंने बताया कि देश के दूसरे राज्यों में जहां गन्ना किसानों को पिछले सालों का भी दाम नहीं मिला है। हरियाणा देश का ऐसा पहला राज्य है जहां पिराई के 15 दिन के भीतर किसानों को गन्ने की कीमत उनके खातों में पहुंच जाती है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने किसानों की भलाई के लिए राज्य की 10 सरकारी व हैफेड की एक शुगर मिलों की क्षमता बढ़ाने के लिए 1100 करोड़ रुपए दिए है। जिसके चलते किसानों को अगली फसल की बिजाई के लिए परेशानी नहीं आएगी। उन्होंने किसानों को विश्वास दिलाते हुए कहा कि अगर पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश व पंजाब गन्ना की कीमत बढ़ाएंगे तो वे उससे भी अधिक कीमत हरियाणा के किसान को देंगे। 
देश की कृषि व आर्थिक क्षेत्र में हरियाणा का बड़ा नाम
भारतीय जनता पार्टी में किसान मोर्चा के संगठक और देश में लंबे समय से कृषि व किसान की भलाई में काम करने वाले ह्रदय नाथ सिंह ने कहा कि हमारे देश में पशु को धन कहा जाता है। किसान की आर्थिक स्थिति को सुदृढ़ करने में पशुधन की बड़ी भूमिका होती है। हरियाणा की समद्घि में भी खेती बाड़ी और पशुधन का विशेष योगदान रहा है। उन्होंने भारत के संदर्भ में किसानों को गोपालन को प्रोत्साहन देने की सलाह देते हुए कहा कि भारत में गाय की परंपरागत नस्लों के गुणों की दुनिया में चर्चा होती है। ऐसे में किसानों को गोपालन की ओर अवश्य ध्यान देना चाहिए। उन्होंने हरियाणा सरकार व राज्य के किसानों की प्रशंसा करते हुए कहा कि देश के कृषि व आर्थिक क्षेत्र में हरियाणा का बड़ा स्थान है।
पशुपालन में हरियाणा ने कर दिखाया ऐतिहासिक कार्य
    भारतीय कृषक समाज के अध्यक्ष कृष्णवीर चौधरी ने कहा कि हरियाणा ने कृषि व पशुपालन के क्षेत्र में ऐतिहासिक काम कर दिखाया है। जबकि इससे पहले इन क्षेत्रों के लिए पंजाब की चर्चा हुआ करती थी। पशुपालन के क्षेत्र में हरियाणा सरकार ने जिस प्रकार सभी संसाधनों को झोंक कर दूध उत्पादन बढ़ाने का जो संकल्प लिया है वह उससे आगे बढ़कर भी काम करेगा। उन्होंने कहा कि पशुपालन को प्रोत्साहन देते हुए नस्ल संवर्धन के लिए प्रोद्योगिकी  के क्षेत्र में बढ़ाए कदम से यह तय है कि यह राज्य अब किसी बड़े देश से पीछे नहीं रहेगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने पिछले बजट में खेतीबाड़ी की तर्ज पर पशुपालन को भी किसान क्रेडिट योजना में शामिल किया है। उन्होंने हरियाणा के पशुधन की दूध देने की क्षमता को उत्तराखंड की पंतनगर यूनिवर्सिटी के औसत से भी अधिक बताया। कार्यक्रम में पहुंचे किसानों से उन्होंने भारत व हरियाणा सरकार की योजनाओं का लाभ उठाने की बात भी कही।


बाकी समाचार