Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

रविवार, 25 अगस्त 2019

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

मनोहर लाल ने करनाल से किया हुड्डा व अभय चौटाला को चारों खाने चित्त

पूरा विपक्ष करनाल में मुख्यमंत्री के मेयर को हराने के लिए एकजुट हो गया था।

Manohar Lal, Karnal Municipal Corporation, former CM Bhupinder Singh Hooda, Leader of Opposition Abhay Chautala, Asha Vallava, Renubala Gupta, Punjabi Card, Social Engineering, naya haryana, नया हरियाणा

20 दिसंबर 2018



नया हरियाणा

पूरा विपक्ष अर्थात् पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा व नेता विपक्ष अभय सिंह चौटाला करनाल में मुख्यमंत्री के मेयर को हराने के लिए एकजुट हो गए थे। जबकि दोनों को एक-दूसरे का धुर विरोधी माना जाता है। परंतु सीएम मनोहर लाल को कमजोर साबित करने के लिए दोनों ने आशा वधवा को समर्थन दे दिया था। फिर भी बीजेपी की रेणुबाला ने बाजी मार ली।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा चुनाव में ट्रायल के तौर पर अपनाया गया सोशल इंजीनियरिंग फॉर्मूला और विशेष तौर पर 'पंजाबी कार्ड' हिट साबित हुआ और इन चुनाव परिणामों से उत्साहित भाजपा नेतृत्व हरियाणा के अगले विधानसभा व लोकसभा चुनाव में भी जातीय समीकरणों में संतुलन बनाते हुए ऐसा ही सोशल इंजीनियरिंग फॉर्मूला अपना सकती है। वहीं भाजपा नेता छोटी सरकार के रूप में इस बड़ी जीत को अब चंडीगढ़ के लिए आसान राह के रूप में देख रहे हैं। उनका कहना है कि भाजपा सरकार के 4 वर्ष के शासनकाल पर यह चुनाव एक तरह से जनमत संग्रह था और मनोहर लाल खट्टर की शराफत व सादगी के साथ पारदर्शी कार्यप्रणाली के कारण प्रदेश के लोगों ने विश्वास की मुहर लगाते हुए विपक्ष को नकार दिया है। इस जीत को खुद मुख्यमंत्री ने प्रदेश की जनता व कार्यकर्ताओं की जीत बताते हुए कहा कि यह हमारी सरकार के 4 साल के कार्यकाल की नीतियों व उपलब्धियों की जीत है।

भाजपा की नवनिर्वाचित मेयर रेनू बाला गुप्ता ने कहा कि यह उनका दूसरा कार्यकाल है पहले कार्यकाल में जो काम अधूरे रह गए थे अब उन्हें पूरा किया जाएगा. नगर निगम चुनाव का दौर जब शुरू हुआ था तब करनाल में भाजपा कमजोर नजर आ रही थी. विपक्ष की घेराबंदी लगातार बढ़ती जा रही थी. ऐसे में भाजपा व कार्यकर्ताओं ने धैर्य के साथ चुनाव की कमान मुख्यमंत्री के हाथों में जिस उम्मीद के साथ सौपी, यह जीत उसी का परिणाम है.
करनाल में मुख्य रूप से इन कामों को पूरा करने की योजना रहेगी-
◆ स्मार्ट लोगों के शहर करनाल को स्मार्ट बनाने की पहल होगी. अर्थात शहर का विकास हर स्तर पर किया जाएगा. रेनू बाला गुप्ता ने कहा कि उनका मकसद केवल और केवल विकास ही होगा. उनका यह  प्रयास रहेगा कि विकास आम आदमी के घर तक पहुंचे. विकास की योजनाओं पर भी काम किया जाएगा. 
● स्वच्छता में करनाल पहले भी अवल रहा है और आगे भी अवल रहेगा. स्वच्छता के लिए लोगों की सोच को बदलने का प्रयास किया जाएगा. डोर-टू-डोर कूड़ा उठाने के बाद शहर को डस्टबिन मुक्त बनाया जाएगा.
● शहर की सड़कों का सुधार किया जाएगा. सड़कों की मरम्मत की जाएगी. साथ ही स्ट्रीट लाइट व्यवस्था भी दुरुस्त होगी.
 ● निगम में आने वाले हर आमजन को बेहतर सुविधाएं मिलें और किसी भी काम के लिए परेशानी न उठानी पड़े. इसके लिए नगर निगम इंतजाम करेगा. 
● प्रत्येक वार्ड का समान रूप से विकास कराया जाएगा.
रेनू बाला गुप्ता ने कहा कि सभी पार्षद के सहयोग व समर्थन के साथ शहर का विकास  किया जाएगा. चुनाव के दौरान राजनीति और कास्ट कार्ड पर रेनू बाला गुप्ता ने कहा कि ये चुनाव केवल वही नहीं लड़ रही थीं. मुख्यमंत्री समेत पूरी भाजपा व कार्यकर्ताओं के सामने यह चुनौती थी जो विकास सीएम साहब ने करनाल में करवाये हैं उन्हें जनता तक पहुँचाया जा सके. बीती बातों को याद करने का अब कोई फायदा नहीं है अब समय आ गया है कि कौन-कौन से काम प्राथमिकता के आधार पर शहर में करवाए जाए.


बाकी समाचार