Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

गुरूवार, 21 फ़रवरी 2019

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट ने की मनोहर सरकार की सराहना

जिस परिवार में नौकरी नहीं उसे मिलेंगे अलग अंक।

Manohar lal, naya haryana, नया हरियाणा

7 दिसंबर 2018

नया हरियाणा

 पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के एक डिवीजन बैंच ने आज तीन याचिकाओं का निपटान करते हुए हरियाणा सरकार द्वारा पुलिस भर्ती में ऐसे उम्मीदवारों को जिनके परिवार में कोई भी सदस्य सरकारी नौकरी में नहीं है, उन्हें अतिरिक्त अंक देने के विवेकपूर्ण निर्णय की सराहना की है।
 डिवीजन बैंच ने अपने निर्णय में कहा है कि हरियाणा सरकार ने ऐसे स्नातकों और स्नातकोत्तरों तथा डिनोटीफाइड कबीलों (विमुक्त जाति और टपरीवास जाति) या घुमन्तू कबीलों, जिनके परिवार में किसी भी सदस्य को सरकारी नौकरी नहीं मिली है, उनकी पीड़ा को समझते हुए पुलिस विभाग में सिपाही के पद पर भर्ती करने के लिये अतिरिक्त अंक प्रदान करने का प्रशंसनीय प्रावधान किया है।
 न्यायालय ने हरियाणा सरकार के इस कदम की सराहना करते हुए कहा कि वास्तव में यह बड़ा ही प्रशंसनीय कदम है क्योंकि ऐसे लोग या उनके परिवार का कोई भी सदस्य या निकटतम सम्बन्धी, जो दुर्भाग्य से सरकारी विभागों में रोजगार प्राप्त करने से वंचित रहे हैं, उनकी ओर देश के किसी भी राज्य ने ध्यान नहीं दिया है और इस तरह का कोई प्रावधान नहीं किया है। हरियाणा सरकार द्वारा डिनोटीफाइड कबीलों को पांच अंक देने के प्रावधानों की सराहना करते हुए न्यायालय ने कहा कि डिनोटीफाइड कबीलों के लोगों को आरक्षण का लाभ बहुत कम मिलता है क्योंकि आरक्षण का एक बड़ा हिस्सा अनुसूचित जातियों और पिछड़े वर्गों को चला जाता है। हरियाणा राज्य में तृतीय और चतुर्थ श्रेणी के पदों पर भर्ती के लिये भी राज्य सरकार द्वारा इस तरह का प्रावधान किया गया है।


बाकी समाचार