Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

शनिवार, 15 दिसंबर 2018

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

जानिए कौन-कितनी बार जीता है: अंबाला लोकसभा सीट

2014 के विधानसभा चुनाव में भाजपा ने अंबाला लोकसभा सीट के अंतर्गत आने वाली 9 विधानसभा सीटों में से 9 पर जीत दर्ज की थी

ambala loksabha seat, ambala all mp list, Rattan Lal Kataria, Selja Kumari, Raj Kumar Valmiki, kumari shailja, bjp mp in ambala, nirmal singh, anil vij, yamunanagar mp, congress mp in ambala, naya haryana, नया हरियाणा

23 नवंबर 2018

नया हरियाणा

अंबाला लोकसभा सीट के साथ काफी रोचक किस्से जुड़े हुए हैं. यह सीट उत्तर भारत में अपना ऐतिहासिक महत्व रखती है. आजादी से पहले अंबाला क्षेत्र का दायरा पंजाब और हिमाचल तक फैला हुआ था. वर्तमान समय में अंबाला लोकसभा सीट के अंतर्गत नौ विधानसभा आती हैं. जिनमें कालका, पंचकूला, नारायणगढ़, अंबाला कैंट, अंबाला सिटी, मौलाना, साढोरा, जगाधरी और यमुनानगर हैं. 

1967 से अब तक अंबाला लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से सांसद एमपी सूची:

Year Winner Party Vote Runner Up PARTY Vote
1967 S. Bhan BJS 128003 P. Wati INC 119303
1971 Ram Prakash INC 196709 Suraj Bhan BJS 74433
1977 Suraj Bhan BLD 264590 Ram Prakash INC 99096
1980 Suraj Bhan JNP 145293 Som Nath INC(I) 142998
1984 Ram Prakash INC 283062 Suraj Bhan BJP 105710
1991 Ram Prakash INC 196406 Suraj Bhan BJP 124464
1996 Suraj Bhan BJP 253555 Sher Singh INC 166408
1998 Aman Kumar Nagra BSP 273792 Suraj Bhan BJP 270928
1999 Rattan Lal Kataria BJP 357460 Phool Chand Mullana INC 232982
2004 Selja Kumari INC 415264 Rattan Lal Kataria BJP 180329
2009 Selja Kumari INC 322258 Rattan Lal Kataria BJP 307688
2014 Rattan Lal Kataria BJP 6,12,121 Raj Kumar Balmiki INC 2,72,047

अंबाला लोकसभा सीट के मौजूदा स्वरूप में अंबाला जिले की चारों विधानसभा सीटों –
नारायणगढ़ (1,68,353 वोट) , 
अंबाला शहर (2,25,199 वोट) , 
अंबाला छावनी ( 1,70,991वोट)  
मुलाना (1,92,065 वोट) 

यमुनानगर जिले की तीन सीटें -
सढौरा (1,94,090 वोट) 
जगाधरी (1,93,331 वोट)  
यमुनानगर (1,97,645 वोट) 

पंचकूला जिले की दो विधानसभा सीटें-
कालका (1,56,358 वोट)
पंचकूला (1,94,422 वोट) 

 इनमें से सढ़ौरा और मुलाना की सीटें अनुसूचित जातियों के लिए आरक्षित हैं.


अंबाला लोकसभा सीट हरियाणा की 10 लोकसभा सीटों में से आरक्षित 2 सीटों में से एक है. दूसरी आरक्षित सीट सिरसा है. 
तब इसे अंबाला-शिमला लोकसभा सीट कहा जाता था, क्योंकि इसका दायरा शिमला तक था. यह सीट आरंभ से लेकर वर्तमान समय तक आरक्षित रही है, क्योंकि इस सीट पर दलितों की संख्या हरियाणा में सर्वाधिक है. अनुमानतः 17 लाख से अधिक मतदाताओं वाली इस सीट पर करीब 8 लाख मतदाता अनुसूचित जातियों के हैं.
इस सीट पर मूलतः कांग्रेस का दबदबा रहा है. कांग्रेस के डॉ रामप्रकाश ने यहां से 1971, 1984, 1989 और 1991 में चार बार जीत दर्ज की है. इनके अलावा कुमारी शैलजा ने 2004 और 2009 में दो बार जीत दर्ज की है. भाजपा के रतन लाल कटारिया भी दो बार सांसद बन चुके हैं. बसपा से अमन नागरा ने भी 1998 में एक बार जीत दर्ज की है. जनसंघ की टिकट पर वरिष्ठ नेता सूरजभान 1967 में जीते थे और भारतीय लोकदल की सीट पर 1977 में जीत दर्ज की तथा जनता पार्टी की तरफ से 1980 में सांसद बने.
2019 में सबसे बड़ा सवाल यही होगा कि किस पार्टी का अंबाला से सांसद बनेगा. भाजपा के रतनलाल कटारिया ने भले ही 2014 में 6 लाख 12 हजार 121 वोट प्राप्त किए थे. पर 2019 का चुनाव उनके लिए आसान नहीं रहने वाला है.  
2014 के विधानसभा चुनाव में भाजपा ने अंबाला लोकसभा सीट के अंतर्गत आने वाली 9 विधानसभा सीटों में से 9 पर जीत दर्ज की थी.


बाकी समाचार