Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

शुक्रवार, 18 अक्टूबर 2019

पहला पन्‍ना सर्वे लोकप्रिय 90 विधान सभा हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप English

अभय चौटाला की कुरुक्षेत्र से जमानत जब्त करवाई थी : कृष्ण बेदी

अभय चौटाला ने एक सवाल के जवाब में कहा था मैं नहीं जानता बेदी कौन है.

Abhay Chautala had secured bail in Lok Sabha from Kurukshetra, Minister of State for Scheduled Castes and Backward Classes Welfare Department, Krishna Bedi, naya haryana, नया हरियाणा

22 नवंबर 2018



नया हरियाणा

अनुसूचित जाति एवं पिछड़े वर्ग कल्याण विभाग के राज्यमंत्री कृष्ण बेदी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके रिपोर्ट पेश की. उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति और पिछड़े वर्ग के छात्रों के लिए पोस्ट मेट्रिक छात्रव्रती योजना के तहत दी जाती है. 
बेदी ने बताया केंद्रीय प्रयोजित स्कीम पोस्ट मेट्रिक छात्रवर्ती के अंतर्गत मैट्रीकोत्तर कक्षाओं में पढ़ने वाले अनुसूचित जाति के छात्रों को 230 से 1200 रुपये तक प्रति मास छात्रवर्ती देते हैं. पिछड़े वर्ग के छात्रों के लिए 160 रुपये से 750 रुपये छात्रवर्ती दी जाती हैं.
पिछड़े समुदाय के लोगों को मकानों के नवीनीकरण के लिए पहले 25 हजार दिए जाते थे मगर अब हमारी सरकार ने इस राशि को बढ़ाकर 50 हजार किया है.  बेदी ने कहा ये रकम एक मुश्त मदद में दी जाती है. 
अनुसूचित समुदाय के लोगों के साथ मारपीट, रेप, हत्या, नरसंहार, डकैती या कब्जा होने पर विभाग की तरफ से  85 हजार से 8.50 लाख तक की आर्थिक सहायता दी जाती है. अनुसूचित जाति, विमुक्त जाति एवं टापरीवास जाति के परिवारों की लड़कियों की शादी के अवसर पर 51000 रुपये दिए जाते हैं.


2 लाख तक रजिस्टर संस्था को विभाग की तरफ से भवन बनाने के लिए ग्रांट दी जाती है. बेदी ने कहा अनुसूचित जाति आयोग का जल्दी हो जाएगा गठन. 
राज्यमंत्री कृष्ण बेदी ने हरियाणा कांग्रेस के अध्यक्ष अशोक तंवर पर हमला करते हुए कहा कि पद की लालसा के चलते तंवर ने दलित समाज को किया शर्मसार. कृष्ण बेदी ने कहा मास्टर चांद राम जैसे कई नेताओं का पूरा समाज आदर करता है लेकिन अशोक तंवर ने समाज को शर्मसार किया है.  कोई कांग्रेसी विधायक तंवर का फ़ोन तक नहीं उठाता. समाज का स्वाभिमान खत्म किया तो अशोक तंवर ने किया है. अशोक तंवर को पद छोड़ देना चाहिए.
राज्यमंत्री कृष्ण बेदी की वकीलों के खिलाफ टिप्पणी मामले में सफाई देते हुए कहा कि वकील सम्मानित वर्ग हैं. मैं उनके कार्यक्रम में गया था. पहले मेरा पूरा बयान सुनना चाहिए.  पुतला फूंकने वाले अगर मेरी पूरी बाइट देखेगे तो वो भी शर्मसार होंगे. मेरा बेटा खुद वकील है, मैं ऐसी बात नहीं कर सकता. बेदी ने कहा अगर फिर भी किसी को मेरी बात गलत लगी तो मैं माफी मांगता हूं.
इनेलो नेता अभय चौटाला पर राज्यमंत्री कृष्ण बेदी ने बयान देते हुए कहा कि अभय मुझे जानता है या नहीं मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता. मैं बीजेपी का नेता हूं और सरकार में मंत्री हूं. अभय चौटाला ने एक बार कुरुक्षेत्र से चुनाव लड़ा था. हमनें इसकी जमानत जब्त करवाई थी.
इससे पहले अभय ने एक सवाल के जवाब में कहा था मैं नहीं जानता बेदी कौन है.
 


बाकी समाचार